अमेरिका की चेतावनी, चुनाव में विदेशी दखल के खिलाफ करेंगे कड़ी कार्रवाई

छह नवंबर को मध्यावधि चुनाव में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के 435 सदस्यों तथा सीनेट के 100 में से 35 सदस्यों का चुनाव करेंगे.

अमेरिका की चेतावनी, चुनाव में विदेशी दखल के खिलाफ करेंगे कड़ी कार्रवाई
(फाइल फोटो)

वाशिंगटन: अमेरिका ने अहम मध्यावधि चुनाव में किसी भी विदेशी दखलअंदाजी की स्थिति में ‘त्वरित’ और ‘भयंकर’ प्रतिशोधात्मक कार्रवाई की चेतावनी दी है. दरअसल अमेरिका की खुफिया बिरादरी ने वर्तमान चुनाव में विदेशी कारकों खासकर रुस, चीन और ईरान के दखल संबंधी अभियान पर बुधवार को अपनी चिंता प्रकट की थी.

छह नवंबर को मध्यावधि चुनाव में अमेरिकी प्रतिनिधि सभा के 435 सदस्यों तथा सीनेट के 100 में से 35 सदस्यों का चुनाव करेंगे. अमेरिका ने कहा है कि अमेरिकी चुनाव में विदेशी दखलअंदाजी अमेरिका के लोकतंत्र के लिए खतरा है.

एक वरिष्ठ खुफिया अधिकारी ने कहा कि लोकतांत्रिक संस्थानों में जनविश्वास को दुर्बल बनाने, लोगों की संवदेनाओं और सरकारी नीतियों को प्रभावित करने के लिए रुस, चीन तथा ईरान समेत विदेशी कारकों द्वारा चलाए जा रहे दखलअंदाजी अभियान से खुफिया बिरादरी बहुत चिंतित है. अधिकारी ने कहा कि ऐसे में इस दखलअंदाजी की पहचान करना और उसे रोकना संघीय सराकर की शीर्ष प्राथमिकता है.

'दखल करने वाले तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेंगे' 
अमेरिका ने कहा है कि वह उन तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगा जो चुनाव में दखल देने का प्रयास कर रहे हैं. अधिकारी ने कहा,‘यदि दखलअंदाजी की जाती है, जो मौलिक रुप से उन स्वभाविक प्रक्रियाओं को नुकसान पहुंचाती है जिन्हें हमने देश में कायम की हैं और यह कि वाकई हमारी आशाओं को खोखला बनाती है तो उस पर त्वरित एवं भयंकर कार्रवाई करनी होगी.’ 

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि विदेशी प्रभाव से उनका तात्पर्य उनकी गतिविधियां से हैं जो मतदाताओं या अमेरिकी जनता को प्रभावित करने के लिए तैयार की गयी हैं.

Zee News App: पाएँ हिंदी में ताज़ा समाचार, देश-दुनिया की खबरें, फिल्म, बिज़नेस अपडेट्स, खेल की दुनिया की हलचल, देखें लाइव न्यूज़ और धर्म-कर्म से जुड़ी खबरें, आदि.अभी डाउनलोड करें ज़ी न्यूज़ ऐप.