लंदन सम्मेलन में जिम्मेदारी साझा करने के लिए नाटो सहयोगियों पर दबाव डालेगा अमेरिका

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, अमेरिकी विदेश विभाग ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो 3-4 दिसंबर को नाटो नेताओं की बैठक में भाग लेने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व में अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल में शामिल होंगे.

लंदन सम्मेलन में जिम्मेदारी साझा करने के लिए नाटो सहयोगियों पर दबाव डालेगा अमेरिका

वाशिंगटन: अमेरिका आगामी शिखर सम्मेलन के दौरान जिम्मेदारी व दायित्वों के साझाकरण, सुरक्षा और रक्षा सहयोग के साथ-साथ उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के भविष्य के विकास की प्रगति पर प्रकाश डालेगा. अमेरिकी विदेश विभाग ने यह जानकारी दी. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, अमेरिकी विदेश विभाग ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो 3-4 दिसंबर को नाटो नेताओं की बैठक में भाग लेने के लिए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व में अमेरिकी प्रतिनिधिमंडल में शामिल होंगे.

नाटो सदस्यों के नेता अगले सप्ताह लंदन में गठबंधन की 70वीं वर्षगांठ मनाने के लिए इकट्ठा होंगे. यह सम्मेलन ऐसे समय हो रहा है जब नाटो की एकता पर बड़े पैमाने पर सवाल उठ रहे हैं.

ट्रंप प्रशासन ने नाटो सहयोगियों पर अमेरिकी सेना के जरिए अपना मतलब निकालने के बारे में कई बार शिकायत की है. इसके अलावा, ईरान परमाणु मुद्दे पर भी गठबंधन के भीतर मतभेद हैं, उत्तरी सीरिया में तुर्की के अभियान के साथ-साथ जर्मनी और रूस के बीच नॉर्ड स्ट्रीम 2 पाइपलाइन परियोजना को लेकर भी मतभेद हैं.

ये भी देखें-: