वेनेजुएला: सेना प्रमुख ने 'रक्तपात' की दी चेतावनी, कहा- विपक्ष है हिंसा का जिम्मेदार

गौरतलब है कि विपक्षी नेता जुआन गुएदो लगातार देश का शासन अपने हाथ में लेने की कोशिश कर रहे हैं और सेना विवादों में घिरे राष्ट्रपति निकोलस मादुरो का समर्थन कर रही है. 

वेनेजुएला: सेना प्रमुख ने 'रक्तपात' की दी चेतावनी, कहा- विपक्ष है हिंसा का जिम्मेदार
सेना विवादों में घिरे राष्ट्रपति निकोलस मादुरो का समर्थन कर रही है.(फाइल फोटो)

कराकस: वेनेजुएला के सेना प्रमुख ने मंगलवार को संकटग्रस्त लैटिन अमेरिकी देश में संभावित "रक्तपात" की चेतावनी दी है. जनरल व्लादिमीर पादरिनो ने कहा कि वह हिंसा या रक्तपात के लिए विपक्ष को जिम्मेदार ठहराते हैं. पादरिनो देश के रक्षा मंत्री भी हैं. पादरिनो ने सेना के उच्च कमान को संबोधित करते हुए यह बयान दिया. गौरतलब है कि विपक्षी नेता जुआन गुएदो लगातार देश का शासन अपने हाथ में लेने की कोशिश कर रहे हैं और सेना विवादों में घिरे राष्ट्रपति निकोलस मादुरो का समर्थन कर रही है. 

वेनेजुएला सरकार ने ‘तख्तापलट की कोशिश’ को नाकाम करने का किया आह्वान
वेनेजुएला के विपक्ष के नेता और स्वयंभू कार्यकारी राष्ट्रपति जुआन गुएदो ने मंगलवार को कहा कि सेना राष्ट्रपति निकोलस मादुरो को सत्ता से बेदखल करने के लिए उनके अभियान में शामिल हो गई है. हालांकि सरकार ने तख्तापलट की कोशिश को नाकाम करने का आह्वान किया है. वेनेजुएला के झंड़े लहराते हुए सैकड़ों लोग काराकास सैन्य अड्डे के समीप एक राजमार्ग पर उमड़े और पुलिस ने उन पर आंसू गैस के गोले दागे.

कुछ प्रदर्शनकारियों ने सुरक्षाबलों पर पथराव किया. सरकार ने कहा कि वह ‘‘विश्वासघाती’’ सैनिकों के एक छोटे-से समूह द्वारा तख्तापलट की कोशिश को नाकाम कर रही है. इस बीच, अमेरिका ने गुएदो को पूरा समर्थन दिया. व्हाइट हाउस ने सेना से लोगों की रक्षा करने और देश के ‘‘वैध संस्थानों’’ का समर्थन करने का आह्वान किया. 

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने टि्वटर पर कहा, ‘‘अमेरिकी सरकार आजादी और लोकतंत्र की तलाश में वेनेजुएला के लोगों का पूरा समर्थन करती है. लोकतंत्र को पराजित नहीं किया जा सकता.’’