वेनेजुएलाः राष्ट्रपति की हत्या के प्रयास मामले में छह ‘आतंकवादी’ गिरफ्तार

 निकोलस मादुरो पर हुए हमले में करीब 7 सैनिक भी घायल हो गए थे. हालांकि अपने ऊपर हुए हमले के लिए मादुरो ने कोलंबिया के वर्तमान राष्ट्रपति संतोस और देश के ‘‘अति दक्षिण वर्ग’’ विपक्ष पर उंगली उठाई थी.

वेनेजुएलाः राष्ट्रपति की हत्या के प्रयास मामले में छह ‘आतंकवादी’ गिरफ्तार
फाइल फोटो

कराकसः वेनेजुएला में राष्ट्रपति निकोलस मादुरो की हत्या के कथित प्रयास मामले में वेनेजुएला सरकार ने छह 'आतंकवादियों' को गिरफ्तार कर लिया गया है. एक सरकारी चैनल पर इसकी पुष्टी करते हुए गृह एवं न्याय मंत्री नेस्टर रेवेरोल ने बताया कि 'राष्ट्रपति पर हमले के आरोप में छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. इसके साथ ही कई और गिरफ्तारियां भी हो सकती हैं.' सूचना देते हुए गृह मंत्री ने बताया कि "राष्ट्रपति पर हमले के बाद कई वाहन जब्त किए गये हैं. वहीं राजधानी के कई होटलों में भी छापे मारे गए. जिसके बाद छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है." बता दें बीते रविवार को मादुरो राजधानी कराकस में नेशनल गार्ड के 81 वर्ष पूरे होने पर मनाए जा रहे समारोह में भाषण दे रहे थे. इसी दौरान उनके पास ड्रोन के साथ कुछ विस्फोटक आ गिरा था. जिसके बाद राष्ट्रपति का भाषण रोक कर उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया.

वेनेजुएला के राष्ट्रपति दे रहे थे भाषण तभी मंच पर ड्रोन से हुआ हमला, फिर...

मेरी हत्या करने के लिए मुझ पर हमला किया गया था
वहीं निकोलस मादुरो पर हुए हमले में करीब 7 सैनिक भी घायल हो गए थे. हालांकि अपने ऊपर हुए हमले के लिए मादुरो ने कोलंबिया के वर्तमान राष्ट्रपति संतोस और देश के ‘‘अति दक्षिण वर्ग’’ विपक्ष पर उंगली उठाई थी. अपने ऊपर हुए हमले के बाद मादुरो ने एक सरकारी चैनल से बात करते हुए कहा था कि "आज मेरी हत्या की कोशिश की गई थी. मेरी हत्या करने के लिए मुझ पर हमला किया गया था. जब मैं नेशनल गार्ड के 81 वर्ष पूरे होने पर भाषण दे रहा था, तब अचानक एक उड़ती हुई चीज मेरे सामने आ गिरी और विस्फोट हो गया."

वेनेजुएला के मादुरो ने 'हत्या' के प्रयास के लिए कोलंबिया को जिम्मेदार ठहराया

मादुरो के आरोप निराधार हैं
वहीं राष्ट्रपति मादुरो पर हुए हमले के विषय में एक अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर इस हमले को 'निराधार' बताया है. अधिकारी ने कहा कि मादुरो के आरोप निराधार हैं. इनमें कोई सच्चाई नहीं है. वहीं दूसरी ओर कुछ लोगों का कहना मादुरो ने अपने ऊपर यह हमला खुद करवाया है. उन्होंने ऐसा इसलिए किया ताकि वह एक देशभक्त का दर्जा हासिल कर सकें और इस हमले के बदले दुश्मन देशों जवाबी कार्यवाई के नाम पर हमला कर सकें.