close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

VIDEO: हिजाब पहन कर पीड़ितों से मिलने पहुंचीं न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री, तस्वीर हुई वायरल

न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जब पीड़ितों के परिवारजनों से मिलने क्राइस्टचर्च में पहुंचीं तो उनकी हिजाब वाली तस्वीर को लोगों ने बहुत पसंद किया. 

VIDEO: हिजाब पहन कर पीड़ितों से मिलने पहुंचीं न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री, तस्वीर हुई वायरल
न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंदा (फोटो: Reuters)

नई दिल्ली: न्यूजीलैंड आतंकी हमले का दुनिया भर में विरोध जारी है. 15 मार्च को न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में हुए हमले में मारे गए परिजनों और घायलों के लिए का श्रद्धांजलि देने के लिए बड़ी संख्या में लोग जमा हो रहे हैं. इस हमले में बंदूकधारियों ने न्यूजीलैंड की दो मस्जिदों पर 50 लोगों की गोली मार हत्या कर दी और अनेक लोगों को घायल कर दिया. आतंकवाद से अछूते रहे न्यूजीलैंड जैसा देश में यह हमला मुस्लिमों पर हुआ है वह भी मस्जिद के अंदर जहां इस्लामिक आतंकवाद का नामोनिशान तक नहीं है. इस घटना को एक नफरत और हिंसा फैलाने वाली घटना के तौर पर पूरा विश्व आलोचना कर रहा है. प्रधानमंत्री जासिंडा आर्डेर्न ने भी इस हमले को आतंकी हमला करार देकर पूरी तरह से खारिज कर इसकी आलोचना की और वे हिजाब पहन कर उस मस्जिद भी गईं जहां हमला हुआ था. 

प्रधानमंत्री का बयान पसंद किया लोगों ने
प्रधानमंत्री जैसिंदा  आर्डेर्न ने अपने बयान में कहा, “हम उस देश के निवासी होने पर गर्व करते हैं जहां 200 से ज्यादा नस्ल के लोग रहते हैं, 160 से अधिक भाषाएं बोली जाती हैं और जहां विविधताओं के बीच हमला एक समान नैतिकता साझा करते हैं. जहां हम अपना पैसा करुणा, और इस हादसे से प्रभावित समुदाय के समर्थन में लगाते हैं. इसके अलावा हम इस तरह की विचारधारा वाले लोगों की हर संभव तरीके से निंदा करते हैं. हम आपको सीधे खारिज करते हुए आपकी निंदा करते हैं.”

यह भी पढ़ें: VIDEO: न्यूजीलैंड आतंकी हमले के पीड़ितों की याद में लोगों ने भावुक होकर किया खास ‘डांस’

शनीवार को ही आर्डेर्न ने क्राइस्टचर्च में मुस्लिम समुदाय के कैंटबरी स्थित रिफ्यूजी सेंटर में जाकर वहां पीड़ित परिवारों से मुलाकात की थी. इस दौरान वे खुद एक काला हिजाब पहने नजर आईं और पीडितों के रिश्तेदारों से बातचीत की. उन्होंने कहा कि यह न्यूजीलैंड नहीं है. पिछले 24-36 घंटे में हमने देखा कि न्यूजीलैंड वास्तव में, जो आपको समर्थन मिल रहा है, वही है.

इस दौरान आर्डेर्न की ली गई तस्वीर वायरल हो गई. इस तस्वीर में आर्डेर्न काफी दुखी नजर आ रही हैं. पीड़ित परिवारों के लिए बड़ी संख्या में लोग श्रद्धांजलि देने सड़कों पर आ रहे हैं हर जगह फूल और कार्ड उनके लिए दिए जा रहे हैं. क्राइस्टचर्च के अल नूर मस्जिद के बाहर बड़ी संख्या में छात्र भी सोमवार को जमा हुए उन्होंने मोमबत्ती जलाकर मारे गए साथी देशवासियों को श्रद्धांजलि अर्पित की.

Jacinda Ardern pic gets viral

इस हमले में हमलावर के पास एक घोषणापत्र था जिसमें उसने खुद को 28 साल का चरम दक्षिणपंथी और आव्रजन विरोधी विचारधारा का ऑस्ट्रेलियाई नागरिक बताया 
इस घटना से न्यूजीलैंड के लोग, काफी सदमें में हैं. हमलावर जिसका की नाम ब्रेटन टैरैंट बताया गया है, उसे जिला न्यायालय में शनिवार को पेश किया गया.