close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

इंडोनेशिया में फिर मंडराया खतरा, बाली द्वीप पर ज्वालामुखी सक्रिय, कई उड़ानें रद्द

राष्ट्रीय आपदा एजेंसी ने कहा कि ज्वालामुखी शुक्रवार रात में सक्रिय हुआ. इससे करीब साढ़े चार मिनट तक लावा और गरम चट्टानें निकलती रहीं जो क्रेटर से करीब तीन किलोमीटर के दायरे में फैल गईं.

इंडोनेशिया में फिर मंडराया खतरा, बाली द्वीप पर ज्वालामुखी सक्रिय, कई उड़ानें रद्द
दिसंबर में भी फटा था ज्‍वालामुखी. फाइल फोटो

जकार्ता : माउंट अगुंग ज्वालामुखी सक्रिय होने से इंडोनेशिया के दक्षिणी हिस्से में राख फैल जाने के कारण बाली हवाई अड्डा ने विमान परिचालन पर रोक लगा दिया. राष्ट्रीय आपदा एजेंसी ने कहा कि ज्वालामुखी शुक्रवार रात में सक्रिय हुआ. इससे करीब साढ़े चार मिनट तक लावा और गरम चट्टानें निकलती रहीं जो क्रेटर से करीब तीन किलोमीटर के दायरे में फैल गईं.

नौ गांवों में काफी राख गिरा. हालांकि, एजेंसी ने ज्वालामुखी के लिए जारी अलर्ट का स्तर नहीं बढ़ाया है. हवाई परिवहन महानिदेशालय ने कहा कि बाली के चार उड़ानों का मार्ग परिवर्तित किया गया है और ज्वालामुखी की राख के कारण पांच उड़ानें रद्द की गई हैं.

 

बता दें कि दिसंबर 2018 में इंडोनेशिया के अनाक क्राकाटोआ या ‘क्राकाटोआ का बच्चा’ ज्वालामुखी में विस्‍फोट के बाद सुनामी आई थी. इसमें कम से कम 430 लोगों की मौत हो गई थी, 1495 लोग घायल हो गए थे और 159 अन्य लापता थे. करीब 22,000 लोग विस्थापित हो गए थे.