संघर्षविराम के बावजूद इजरायल से युद्ध खत्म नहीं: हमास प्रमुख

मिस्र और संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में हुए संघर्षविराम समझौते को तोड़-मरोड़कर पेश न करने की चेतावनी दी.

संघर्षविराम के बावजूद इजरायल से युद्ध खत्म नहीं: हमास प्रमुख
इजरायल और फिलिस्तीनी इस्लामिक जिहाद के बीच हिंसा में अबु मल्हौस परिवार के आठ सदस्य मारे गए थे. (फाइल फोटो)

गाजा: हमास प्रमुख इस्माइल हनियेह ने कहा है कि गाजा (Gaza) पट्टी में हाल ही में हुई हिंसा रुकने के बावजूद इजरायल से युद्ध खत्म नहीं हुआ है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, हानियेह ने यह बयान रविवार को अबु मल्हौस परिवार को सांत्वना देते हुए दिया. इजरायल (Israel) और फिलिस्तीनी इस्लामिक जिहाद के बीच हिंसा में अबु मल्हौस परिवार के आठ सदस्य मारे गए थे.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, "पिछले चरण में हमारी जीत दागे गए रॉकेट्स की संख्या या नुकसान के आधार पर नहीं, बल्कि इस आधार पर है कि प्रतिरोध ने उन्हें (इजरायल) पूरी तरह पंगु बना दिया है." पिछले सप्ताह, इजरायल और गाजा के विद्रोही संगठनों के बीच दोबारा हिंसा भड़क गई थी, जब इजरायल ने वरिष्ठ इस्लामिक जिहाद कमांडर अबु अल-अत्ता के घर पर बमबारी कर उसकी तथा उसकी पत्नी को मार गिराया था.

इसके जवाब में उग्रवादी संगठन ने इजरायल में रॉकेटों से हमले किए थे, जिसके बाद इजरायल के युद्धक विमानों ने गाजा पर हवाई हमला कर दिया था, जिसमें महिलाओं और बच्चों समेत कुल 35 फिलिस्तीनियों की मौत हो गई थी. मिस्र ने गुरुवार को दोनों पक्षों में संघर्षविराम समझौते की मध्यस्थता की थी. इसके बाद इजरायल में गाजा से कई और रॉकेट हमले किए जाने और उसके जवाब में इजरायली युद्धक विमानों द्वारा कार्रवाई किए जाने से संघर्षविराम कुछ ही समय बाद खत्म हो गया था.

इसबीच इस्लामिक जिहाद के एक वरिष्ठ नेता खालिद अल-बत्श ने इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के पूर्व के उन बयानों की निंदा की थी जिसमें उन्होंने कहा था कि इजरायल ने दुश्मनी खत्म करने के बदले गाजा में कोई वादा नहीं किया है. उन्होंने नेतन्याहू को पिछले सप्ताह मिस्र और संयुक्त राष्ट्र की निगरानी में हुए संघर्षविराम समझौते को तोड़-मरोड़कर पेश न करने की चेतावनी दी.