Daily Panchang 16 April 2021 नवरात्रि के चौथे दिन कीजिए मां कुष्मांडा की पूजा

आज चैत्र शुक्लक्ष की चतुर्थी तिथि है. आज नवरात्रि का चौथा दिन है. आज ही के दिन मां कुष्मांडा की पूरे विधि-विधान के साथ पूजा अर्चना की जाती है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 16, 2021, 05:30 AM IST
  • आज ही रोहिणी व्रत और विनायक चतुर्थी भी है
  • आज के दिन मां कुष्मांडा की पूजा की जाती है
Daily Panchang 16 April 2021 नवरात्रि के चौथे दिन कीजिए मां कुष्मांडा की पूजा

नई दिल्ली: आज का पंचांग आपके लिए कई मायनों में खास है. 16 अप्रैल 2021 का दिन है. यह नई शुरुआत का समय भी है. आज चैत्र शुक्लपक्ष की चतुर्थी तिथि है. आज नवरात्र का चौथा दिन है. आज मां कुष्मांडा की पूजा करने का विधान है. रोहिणी नक्षत्र के साथ आज सौभाग्यय योग बन रहा है. इसके अलावा क्या है पंचांग में खास, बता रहे हैं आचार्य विक्रमादित्य-

पंचांग

दिन- शुक्रवार

महीना- चैत्र, शुक्लपक्ष

तिथि- चतुर्थी

नवरात्र के चौथे दिन मां कुष्मांडा की पूजा की जाती है. आज ही के दिन रोहणी व्रत और विनायक चतुर्थी भी है

नक्षत्र- रोहिणी नक्षत्र के साथ सौभाग्य योग है

शुभ मुहूर्त- सूर्य उदय से रात तक शुभ काम करें.

राहुकाल- सुबह 10:45 से 12:21 तक कोई भी शुभ काम ना करें.

आज के दिन ललिता सहस्स्रनाम का पाठ करें. मां लक्ष्मी की कृपा से दरिद्रता का अंत होगा. आज पेठे का दान करने से दीर्घायु प्राप्त होती है.

नवरात्रि के चौथे मां दुर्गा के कुष्मांडा स्वरूप की पूजा-अर्चना की जाती है. इनकी आठ भुजाएं होती है, इस कारण उन्हें अष्टभुजा वाली माता भी कहा जाता है. मां हाथों में कमंडल, बाण, अमृत से भरा कलश, कमल, गदा, चक्र, धनुष और जप की माला होती है. मां कुष्मांडा की पूरे विधि-विधान से पूजा करने पर परिवार में खुशहाली का वातावरण तो बनता ही है, साथ ही सूर्य संबंधी लाभ की भी प्राप्ति होती है.

मां कुष्मांडा को प्रसन्न करने के लिए 21 बार इस मंत्र का जप करें.

सुरासम्पूर्ण कलंस रुधिराप्लुतमेव च
दधाना हस्त पद्माभ्यां कूष्मांडा शुभदास्तु मे

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़