close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में कौन मारेगा बाजी? जानें फॉर्मूला

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 21 अक्टूबर को मतदान होना सुनिश्चित हुआ है, जबकि 24 अक्टूबर को चुनावी नतीजे आएंगे. प्रदेश में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं, महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी ने गठबंधन की घोषणा कर दी है.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में कौन मारेगा बाजी? जानें फॉर्मूला

नई दिल्‍ली: महाराष्ट्र में सूबे की बागडोर के लिए होने वाले विधानसभा चुनाव की तारीख का ऐलान हो चुका है. ऐसे में सियासी सरगर्मी के बढ़ने का सिलसिला तेज हो गया है. सूबे में इस बार होने वाले इलेक्शन काफी दिलचस्प होंगे. क्योंकि हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में शिवसेना और बीजेपी की जुगल-जोड़ी ने 48 में से 41 सीट हासिल किए थे. ऐसे में विधानसभा चुनाव के लिए जद्दोज़हद का दौर शुरू हो गया है.

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 21 अक्टूबर को मतदान होना सुनिश्चित हुआ है, जबकि 24 अक्टूबर को चुनावी नतीजे आएंगे. इस बार के चुनाव को लेकर लोगों में खासी बेचैनी देखी जा रही है. पिछली बार के चुनावी परिणाम में महाराष्ट्र के सत्ता पर बीजेपी बड़ी ही आसानी से काबिज हो गई थी. लेकिन परिणाम में इस बार क्या होगा ये तो आने वाले 24 अक्टूबर को ही पता चलेगा.

प्रदेश में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं, महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी ने गठबंधन की घोषणा कर दी है. वहीं बीजेपी और शिवसेना के बीच गठबंधन पर बातचीत चल ही रही है. बीते शुक्रवार को शिवसेना प्रमुख ने सभी अटकलों को साफ करते हुए ये बताया था कि सीट बीजेपी के साथ गठबंधन पर कोई संशय नहीं है. रही बात सीट बंटवारे पर तो वो तय फॉर्मूले के मुताबिक ही होगा. उद्धव ठाकरे ने ये भी कहा था कि गठबंधन की घोषणा जल्द ही की जाएगी.

2009 और 2014 में क्या रहे परिणाम?

साल 2009 में हुए विधानसभा चुनाव में जहां बीजेपी ने 46 और शिवसेना ने 44 सीट पर जीत दर्ज की थी, तो वहीं कांग्रेस ने 82 और NCP ने 62 सीटों पर अपना कब्जा जमाया था. लेकिन साल 2014 के चुनावी नतीजों में कांग्रेस और NCP को मुंह की खानी पड़ी थी. इन नतीजों में कांग्रेस को 42 और एनसीपी को 41 सीटें झोली में गई थीं. उस वक्त सीट बंटवारे को लेकर बीजेपी-शिवसेना के बीच भी बात नहीं बन पाई थी. दोनों पार्टियों ने अकेले चुनावी रणभूमि पर ताल ठोका था. 280 सीटों पर बीजेपी ने अपना प्रत्याशी मैदान में उतारा था, जिसमें से 122 को जीत मिली थी. वहीं शिवसेना ने 282 सीटों पर अपने कैंडिडेट उतारे थे, जिसमें 63 सीटों पर जीत का डंका बजाने में वो कामयाब हुई थी. 

2009 के चुनावी नतीजों की तस्वीर

  • बीजेपी- 46
  • शिवसेना- 44
  • कांग्रेस- 82
  • एनसीपी- 62
  • एमएनएस- 13
  • अन्य- 41

2014 के चुनावी नतीजों की तस्वीर

  • बीजेपी- 122
  • शिवसेना- 63
  • कांग्रेस 42
  • एनसीपी- 41
  • आईएनडी- 7
  • एमएनएस- 1
  • अन्य- 12

चुनाव आयोग ने चुनावी की तारीख की ऐलान कर दिया है. 27 सितंबर को अधिसूचना जारी की जाएगी. उम्मीदवारों को क्रिमिनल रिकॉर्ड की जानकारी देनी होगी और खर्च का हिसाब 30 दिन के भीतर देना होगा.