close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड विधानसभा चुनाव से पहले विरोधियों को तगड़ा झटका! 6 MLA भाजपा में शामिल

झारखंड विधानसभा चुनाव के ऐलान से पहले भाजपा ने अपने विरोधियों को हाई वोल्टेज का झटका दिया है. कुल 6 विपक्षी दलों के विधायकों ने भारतीय जनता पार्टी का रुख कर लिया है.

झारखंड विधानसभा चुनाव से पहले विरोधियों को तगड़ा झटका! 6 MLA भाजपा में शामिल

रांची: झारखंड में विधानसभा चुनाव से पहले सत्ताधारी बीजेपी ने विपक्षी दलों को बड़ा झटका दिया है. अभी राज्य में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान नहीं हुआ है लेकिन विपक्षी नेताओं के पाला बदलने का सिलसिला तेज हो गया है. रांची में आज एक साथ छह विधायकों ने बीजेपी का दामन थामा तो विपक्षी खेमे में जैसे हड़कंप ही मच गया.

बीजेपी का मिशन झारखंड

झारखंड में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को आज उस वक्त बड़ा झटका लगा जब कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत ने रांची में मुख्यमंत्री रघुबर दास की मौजूदगी में बीजेपी का दामन थाम लिया. भगत मौजूदा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव से नाराज चल रहे थे. 

माना जा रहा है कि लोकसभा चुनाव में हार के लिए वो उरांव से खफा थे. और इसीलिए उन्होने कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया. सीएम रघुवर दास ने उन्हे औपचारिक रूप से बीजेपी की सदस्यता दिलाई और पार्टी में उनका स्वागत किया. इस मौके पर रघुवर दास ने कहा कि देश में अब विकास और राष्ट्रवाद की राजनीति ही चलेगी.

इस दौरान झारखंड के सीएम रघुबर दास ने कहा कि '2014, 2019 के चुनाव का जनादेश को अगर हम देखें, इस देश में अब हमारे देश की करोड़ों जनता, ये जातिवाद, संप्रदायवाद की राजनीति को नकारते हुए और वंशवाद-परिवारवाद की राजनीति को नकारते हुए. लोकसभा चुनाव में देश की और झारखंड की करोड़ों जनता ने विकास के प्रति अपने जनादेश को देने का काम किया है.'

ये-ये नेता भाजपा में हुए शामिल

पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत के अलावा कांग्रेस के विधायक मनोज यादव, जेएमएम के विधायक कुणाल सारंगी, जेपी भाई पटेल, चमरा लिंडा और नौजवान संघर्ष मोर्चा के भानु प्रताप शाही भी बीजेपी में शामिल हो गए. बीजेपी की सदस्यता लेने के बाद सभी विधायकों के मुंह पर सिर्फ राष्ट्रवाद का नारा नजर आ रहा था.

भाजपा में शामिल हुए विधायक मनोज यादव ने कहा कि 'आज पूरे देश में पूरे देश में राष्ट्रवाद और विकास का मुद्दा है. और भारतीय जनता पार्टी बेहतर ढंग से काम कर रही है. वर्तमान में झारखंड प्रदेश में रघुबर दास के नेतृत्व में बेहतर कार्य हुए है, उससे प्रभावित होकर हमने भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन की है.'

इस मौके पर बीजेपी में आए अन्य सदस्यों ने भी पार्टी और रघुवर सरकार की खूब तारीफ की. 

झारखंड में विधानसभा चुनाव की घोषणा से ठीक पहले विरोधी दलों के छह विधायकों को अपने पाला में लाना बीजेपी के लिए बड़ी कामयाबी मानी जा रहा है... हालांकि पाला बदलने का ये खेल तो अभी शुरु हुआ है... माना जा रहा है कि महाराष्ट्र की तर्ज पर आने वाले दिनों में बीजेपी कई और विपक्षी विधायकों को अपने खेमे में ला सकती है.