दिल्ली चुनाव: 11 लोगों का आरोप, केजरीवाल के खिलाफ नहीं भरने दिया नामांकन

11 उम्मीदवारों ने आरोप लगाया है कि उन्हें अरविंद केजरीवाल के खिलाफ चुनाव लड़ने के लिये नामांकन नहीं भरने दिया गया.

दिल्ली चुनाव: 11 लोगों का आरोप, केजरीवाल के खिलाफ नहीं भरने दिया नामांकन

दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ नई दिल्ली से विधानसभा चुनाव लड़ने की कोशिश करने वाले 11 उम्मीदवारों ने हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है और आरोप लगाया है कि उन्हें नामांकन नहीं करने दिया गया. उनकी याचिका पर सुनवाई करने के लिए दिल्ली हाईकोर्ट तैयार हो गया है. मामले की सुनवाई मंगलवार को होगी. 

चुनाव अधिकारी पर भेदभाव करने का आरोप

आपको बता दें कि 11 उम्मीदवारों ने याचिका में चुनाव आयोग के अधिकारी पर आरोप लगाया कि उन्हें नामांकन नहीं करने दिया गया. जबकि उनके पास टोकन भी था. उम्मीदवारों ने आरोप लगाया है कि नामांकन करने को लेकर उन्होंने 20 जनवरी और 21 जनवरी को प्रयास किया था लेकिन रिटरिंग ऑफिसर ने इनकार कर दिया. 

नई दिल्ली से चुनाव लड़ रहे हैं केजरीवाल

आपको बता दें कि अरविंद केजरीवाल नई दिल्ली से विधानसभा चुनव लड़ रहे हैं. उनके खिलाफ ये सभी लोग चुनाव लड़ना चाहते थे.चुनाव आयोग के अनुसार, नई दिल्ली विधानसभा सीट पर सबसे ज्यादा प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं. इस हाई प्रोफाइल सीट से मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार अरविंद केजरीवाल के अलावा 27 अन्य उम्मीदवार मैदान में हैं.

जजपा नहीं लड़ेगी दिल्ली चुनाव

हरियाणा के उप मुख्यमंत्री व जननायक जनता पार्टी (जजपा) प्रमुख दुष्यंत चौटाला ने कहा कि उनकी पार्टी दिल्ली विधानसभा चुनाव नहीं लड़ेगी. दूसरी तरफ कांग्रेस की स्थिति खराब है. दिल्ली के राजनीतिक तालाब में कांग्रेस की नैया पहले ही डूब रही है. ऐसे में पार्टी दिल्ली में अपनी नाव पर कागज के पहिये लगा कर उम्मीद कर रही है कि नाव चल जायेगी. डूबती नाव न चलती है न तैरती है. नाव को सड़क पर भी चला देने की दम-खम रखने वाला कांग्रेसी मल्लाह याने शीला दीक्षित अब नहीं रही. 

ये भी पढ़ें- दिल्ली चुनाव: जेपी नड्डा ने केजरीवाल पर देशद्रोहियों को बचाने का लगाया आरोप