महाराष्ट्र में फडणवीस ने अजित पवार के समर्थन से सरकार बनाई

महाराष्ट्र में देवेन्द्र फडणवीस ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है.आज सुबह राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. फडणवीस के साथ एनसीपी  प्रमुख शरद पवार के भतीजे अजित पवार ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. अभी ये तय नहीं है कि अजित पवार के नेतृत्व  में पूरी एनसीपी भाजपा का समर्थन कर रही है या नहीं.    

महाराष्ट्र में फडणवीस ने अजित पवार के समर्थन से सरकार बनाई
राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने फडणवीस और अजित पवार को शपथ दिलाई

मुंबई : महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में शनिवार सुबह बड़ा सियासी घटनाक्रम देखने को मिला. शिवसेना (Shiv Sena) -एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congress) द्वारा मिलकर सरकार गठन किए जाने के तमाम प्रयासों के विफल रहने के बीच शनिवार सुबह महाराष्‍ट्र में भाजपा के देवेन्द्र फडणवीस ने  एनसीपी के अजित पवार के समर्थन से शपथ ग्रहण कर लिया है.

इसी के साथ महाराष्ट्र से राष्ट्रपति शासन  हटा लिया  गया है. 

बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ली, जबकि एनीसीपी की तरफ से अजित पवार (Ajit Pawar) उप मुख्‍यमंत्री बनाए गए. राज्‍यपाल भगत सिंह कोशियारी ने उन्‍हें राजभवन में शपथ ग्रहण कराया.

शपथ ग्रहण के बाद फडणवीस ने बताया कि महाराष्ट्र में जनता ने उन्हें स्पष्ट बहुमत दिया था. लेकिन शिवसेना ने उसकी अनदेखी  करते हुए दूसरे दलों  के साथ सरकार बनाने की कोशिश की. जिसकी वजह से राष्ट्रपति शासन लगाना  पड़ा. लेकिन  महाराष्ट्र को स्थायी सरकार की जरुरत थी. इसलिए हमने सरकार बनाने का फैसला  किया. 

देवेन्द्र फडणवीस ने महाराष्ट्र के हित में तुरंत फैसला लेने के लिए एनसीपी नेता अजित पवार का भी शुक्रिया अदा किया

जिसके बाद भाजपा अध्यक्ष और गृहमंत्री अमित शाह ने उन्हें बधाई दी-

महाराष्ट्र में फडणवीस और अजित पवार के शपथ ग्रहण का वीडियो यहां देखें

उप-मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण करने के बाद एनसीपी के वरिष्ठ नेता अजित  पवार ने बताया कि स्थायी सरकार गठित नहीं होने की वजह से महाराष्ट्र की जनता को मुश्किल आ रही थी. इसलिए हमने  साथ मिलकर सरकार  बनाने का  फैसला  किया. 

मुख्‍यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि महाराष्‍ट्र की जनता ने स्‍पष्‍ट जनादेश दिया था. महाराष्‍ट्र में स्‍थायी सरकार की जरूरत है. इसके लिए हमने एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाई है. शिवसेना की वजह से राष्‍ट्रपति शासन लगा. शिवसेना ने जनादेश को नकार दिया. उन्‍होंने कहा कि हमने राजयपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था. हम राज्‍य में स्थिर सरकार चलाएंगे.

वहीं, डिप्‍टी सीएम बने एनसीपी के अजित पवार ने कहा कि चुनावी परिणामों के दिन से लेकर आज तक कोई भी पार्टी सरकार बनाने में सक्षम नहीं थी. महाराष्ट्र किसान मुद्दों सहित कई समस्याओं का सामना कर रहा था, इसलिए हमने एक स्थिर सरकार बनाने का फैसला किया.

वहीं, सरकार गठन के तुरंत बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर फडणवीस और अजित पवार को बधाई दी. उन्‍होंने लिखा, देवेंद्र फडणवीस जी और अजित पवार जी को महाराष्ट्र के सीएम और डिप्टी सीएम के रूप में शपथ लेने के लिए बधाई. मुझे विश्वास है कि वे महाराष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य के लिए लगन से काम करेंगे.