close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शाह की हुंकार, जोशो-खरोश से लबरेज नजर आए भाजपा अध्यक्ष! पढ़ें- 4 बड़ी बातें

महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनाव के मद्देनजर देश में सियासी पारा गर्म है. इस बीच भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने खुद मोर्चा संभाल रखा है. चुनावी रैली में उन्होंने टुकड़े-टुकड़े गैंग को जेल में डालने का वादा किया

शाह की हुंकार, जोशो-खरोश से लबरेज नजर आए भाजपा अध्यक्ष! पढ़ें- 4 बड़ी बातें
चुनावी रैली को संबोधित करते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह

नई दिल्ली: महाराष्ट्र और हरियाणा में चुनावी रणभेरी बजने के बाद रैलियां का दौर जोर पकड़ रहा है. केंद्रीय गृहमंत्री और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह महाराष्ट्र में धुआंधार रैलियां कर रहे हैं. सांगली में भारी भीड़ को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कश्मीर से धारा 370 और 35ए हटाने के मोदी सरकार के फैसले का जिक्र किया और कहा कि मोदी सरकार के इस ऐतिहासिक कदम से सरदार पटेल के अखंड भारत का सपना पूरा हो चुका है. शाह ने 370 हटाने के सरकार के फैसले का विरोध करने वाली एनसीपी और कांग्रेस पर जमकर प्रहार किया.

1). 370 पर वोटबैंक की राजनीति

  • भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा, 'जब मोदी जी ये प्रस्ताव लेकर आए तो कांग्रेस और NCP इसका विरोध कर रहे थे. शरद पवार बताएं कि आप इसके पक्ष में हो या नहीं, इसका विरोध क्यों किया? वोट बैंक की राजनीति के लिए कहा था कि खून की नदियां बह जाएगी. खून की नदियां छोड़िए, एक गोली तक नहीं चली.'

सांगली की रैली में अमित शाह जोशो-खरोश से लबरेज नजर आए. उन्होंने सांगली के लोगों को एक बार फिर सर्जिकल स्ट्राइक और जेएनयू में लगे देश विरोधी नारों की याद दिलाई और कहा कि मोदी सरकार उन्हें जेल में डाला लेकिन राहुल गांधी उनके समर्थन में खड़े हो गए.

2). टुकड़े-टुकड़े गैंग पर वार

  • उन्होंने कहा, 'हम सर्जिकल स्ट्राइक करते हैं और आप विरोध करते हैं. JNU में देशद्रोहियों नेनारे लगाए, भारत तेरे टुकड़े होंगे. मोदी जी ने जेल में जाना उनको, तो राहुल गांधी आ गए. अगर आप भारत तेरे टुकड़े होंगे उसके साथ होंगे को मोदी जी उन्हें जेल में डालने का काम करेंगे.'

शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने देश को सुरक्षित करने का काम किया है. उन्होंने यूपीए सरकार की जिक्र करते हुए कहा कि तब आतंकवादियों के हौसले बुलंद थे क्योंकि सरकार के पास आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई करने की इच्छाशक्ति नहीं थी लेकिन आजाद हालात बदल चुके हैं...

3). कांग्रेस को लगाई लताड़

  • शाह बोलें, 'PM मोदी ने सबसे बड़ा काम देश को सुरक्षित करने का किया है. मौनी बाबा की सरकार थी, सिर काट कर ले जाते थे. उरी, पुलवामा की घटना हुई, लेकिन इस बार सरकार बीजेपी की थी और मोदी पीएम थे. पाक में बम गिराकर आतंकियों को उड़ाकर आगए औऱ दुनिया का नजरिया बदल गया भारत को देखने का पहले देश के पीएम जाते थे विदेश में कुछ नहीं होता था, लेकिन आज देखिए हजारों की भीड़ एयरपोर्ट पर मोदी मोदी के नारे लगाते हैं और कांग्रेस के पेट में दर्द होता है.'

सांगली में कांग्रेस और एनसीपी पर गरजने के बाद अमित शाह महाराष्ट्र के सोलापुर पहुंचे और वहां सियासत में परिवारवाद के चलन को लेकर कांग्रेस और एनसीपी पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि बीजेपी में छोटा से छोटा कार्यकर्ता अपने काम के दम पर आगे बढ़ जाता है. जबकि कांग्रेस और एनसीपी जैसी पार्टियां परिवारवाद के जाल से निकल नहीं पाती.

4). परिवारवाद पर चोट

  • अमित शाह ने कहा कि मैं पोस्टर लगाता था और आज देश का गृहमंत्री हूं.

महाराष्ट्र और हरियाणा में 21 अक्टूबर को वोट डाले जाएंगे और नतीजे 24 अक्टूबर को आएंगे. दोनों ही राज्यों में बीजेपी की सरकार है. बीजेपी किसी भी हाल में इन राज्यों की सत्ता हाथ से जाने देना नहीं चाहती जबकि कांग्रेस की कोशिश अपनी खोई हुई साख को वापस पाने की है.