close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

BJP के संकल्प पत्र में किसानों पर खासा ध्यान! हरियाणा में क्या होगा?

कांग्रेस के बाद अब बीजेपी ने भी अपना घोषणापत्र जारी कर दिया. बीजेपी ने 32 पेज के अपने संकल्प पत्र को 'म्हारे सपनों का हरियाणा' नाम दिया. इसमें किसान, गरीब वर्ग, युवा और खिलाड़ियों का खास ख्याल रखा गया है. वहीं नागरिक सुविधाएं बढ़ाने पर भी फोकस रखा गया है.

BJP के संकल्प पत्र में किसानों पर खासा ध्यान! हरियाणा में क्या होगा?

चंडीगढ़: हरियाणा विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के घोषणापत्र जारी करने के बाद आज भाजपा ने भी अपना घोषणापत्र जारी कर दिया. घोषणापत्र को 'संकल्प पत्र 2019' नाम देते हुए इसमें किसानों की आय को 2022 तक दोगुना करने की बात कही गई है.  घोषणापत्र को बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की मौजदूगी में यह घोषणापत्र जारी किया गया. संकल्प पत्र 'म्हारे सपनों का हरियाणा' के जरिए बीजेपी ने सभी वर्गों को साधने की कोशिश की है.

हर वर्ग का ध्यान रखा
घोषणापत्र जारी करते हुए भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने कहा कि इस घोषणापत्र को बहुत विश्लेषण करके तैयार किया गया है. समाज के हर वर्ग को ध्यान में रखते हुए हमने यह संकल्प पत्र तैयार किया है. पिछले पांच सालों में मनोहर लाल खट्टर सरकार ने राज्य की छवि को मजबूत किया है. उन्होंने हरियाणा की राजनीतिक संस्कृति को बदल दिया है. आज हरियाणा भ्रष्टाचार मुक्त, विकास युक्त है और यहां परादर्शी सरकार देने का काम किया है.

नाम बदलने से सरकार नहीं आती
जगत प्रकाश नड्डा ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस ने बीजेपी की तरह अपने घोषणापत्र का नाम भी संकल्पपत्र रख दिया है, लेकिन ये नहीं जानते कि नाम बदलने से सरकार नहीं, आती बल्कि विकास के काम करने से आती है. नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रेवाड़ी में कहा था कि वन रैक वन पेंशन की मांग को पूरा करेंगे. मैं पूरे अधिकार के साथ कह सकता हूं कि 12000 करोड़ रुपये वन रैंक वन पेंशन के लिए जारी किए गए हैं और 22 लाख मामलों को सुना गया. वन रैंक वन पेंशन का अब कोई केस पेंडिंग नहीं है.

ये हैं प्रमुख वादे:

  1. किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य
  2. युवा विकास और स्वरोजगार नामक मंत्रालय का गठन
  3. 500 करोड़ रुपये खर्चकर 25 लाख युवाओं को कौशल प्रदान करने की तैयारी
  4. सभी 22 जिलों में आधुनिक अस्पताल का निर्माण
  5. महिलाओं की सुरक्षा के लिए हर गांव में सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग की शुरुआत

कांग्रेस के घोषणापत्र में क्या था?
इससे पहले शुक्रवार को कांग्रेस ने अपना संकल्प पत्र घोषित किया था. अपने घोषणापत्र में कांग्रेस ने किसानों, महिलाओं और युवाओं पर फोकस किया था. कांग्रेस ने सरकारी नौकरियों में 33 फीसदी आरक्षण सहित महिलाओं के लिए कई घोषणाएं की थी। इसके अलावा पिछले और अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए छात्रवृत्ति की भी घोषणा की गई थी.

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने कहा कि राज्य में व्यापक स्वास्थ्य सेवाओं पर भी ध्यान केंद्रित किया जाएगा. इसके तहत 2 हजार स्वास्थ्य और कल्याण केंद्र स्थापित किए जाएंगे. इसके अलावा सत्ता में आने पर अनुसूचित जाति समुदाय से जुड़े लोगों को 3 लाख तक का जमानत मुक्त ऋण देने का वादा भी किया गया है. 

युवाओं को 500 करोड़ रुपये
भाजपा ने वादा किया है कि वह 25 लाख युवाओं के प्रशिक्षण के लिए 500 करोड़ रुपये खर्च करेगी. इसके अलावा 3,000 की वृद्धावस्था पेंशन भी दी जाएगी. घोषणापत्र के अनुसार, हरियाणा को क्षय रोग से मुक्त बनाया जाएगा. वहीं किसानों की आय को 2022 तक दोगुनी करने की बात भी कही गई है. जेपी नड्डा ने बताया कि पार्टी के फिर से सत्ता में आने पर राज्य में 1000 खेल नर्सरी स्थापित की जाएंगी.

इस बार हरियाणा में भाजपा किसी भी कीमत पर अपनी जमीन नहीं गंवाना चाहेगी. याद हो कि साल 2009 में हए विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को करारी हार का स्वाद चखना पड़ा था. उस वक्त भाजपा सिर्फ 4 सीटों पर सिमट गई थी. लेकिन, 2014 का चुनाव बीजेपी के लिए हरियाणा के इतिहास का स्वर्णिम पल बन गया. जादुई जीत हासिल करते हुए इस चुनाव में भाजपा सीधे 47 सीटों पर पहुंच गई. और विरोधियों के किले को ध्वस्त कर दी. उस वक्त मनोहर लाल खट्टर को सूबे की कमान सौंपी गई.