close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

डिप्टी सीएम पद के लिए दुष्यंत की मां का नाम आया सामने

नई दिल्लीः हरियाणा की गद्दी पर बैठने वालों का अभी भी पूरा-पूरा फैसला नहीं हो सका है. यह तो तय है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल बनेंगे, लेकिन जजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने की स्थिति में डिप्टी सीएम का नाम नहीं तय हो पा रहा है. सूत्र दावा कर रहे हैं कि अब इस पद के लिए दुष्यंत का नहीं बल्कि उनकी मां नैना चौटाला का नाम सामने आ रहा है. इस तरह एक बार फिर हरियाणा विधानसभा का सियासी समीकरण नया मोड़ लेता दिख रहा है. 

डिप्टी सीएम पद के लिए दुष्यंत की मां का नाम आया सामने

नई दिल्लीः हरियाणा की गद्दी पर बैठने वालों का अभी भी पूरा-पूरा फैसला नहीं हो सका है. यह तो तय है कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल बनेंगे, लेकिन जजपा के साथ मिलकर सरकार बनाने की स्थिति में डिप्टी सीएम का नाम नहीं तय हो पा रहा है. सूत्र दावा कर रहे हैं कि अब इस पद के लिए दुष्यंत का नहीं बल्कि उनकी मां नैना चौटाला का नाम सामने आ रहा है. इस तरह एक बार फिर हरियाणा विधानसभा का सियासी समीकरण नया मोड़ लेता दिख रहा है. 

बाढड़ा सीट से हैं विधायक
चौटाला फैमिली की बड़ी बहू नैना चौटाला, बाढड़ा सीट से विधायक हैं. वह जजपा के संस्थापक अजय चौटाला की पत्नी हैं. अजय अभी जेल में हैं. जजपा के समर्थन देने के बाद दुष्यंत के उप मुख्यमंत्री का पद ऑफर किया गया था. हालांकि यह तो तय है कि मनोहर लाल सीएम की पारी दोबारा खेलने जा रहे हैं लेकिन अभी तक डिप्टी सीएम के नाम पर उहापोह की ही स्थिति है. गृहमंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा था कि हरियाणा में भाजपा और जजपा मिलकर सरकार बनाएंगी. उन्होंने कहा कि सरकार में भाजपा का मुख्यमंत्री और जजपा का उप मुख्यमंत्री होगा.

मिले हैं सर्वाधिक मत, बनाया है रिकॉर्ड
अभी हुए विधानसभा चुनाव में नैना बाढड़ा सीट से लड़ रही थीं. उन्होंने पिछले 52 सालों में सबसे अधिक मत प्राप्त कर रिकॉर्ड भी बनाया है. इस चुनाव में नैना को 52809 वोट मिले हैं, जबकि इससे पहले यह रिकॉर्ड धर्मबीर सिंह के नाम था। नैना चौटाला बाढड़ा हलके से चुनी गई तीसरी महिला विधायक बनी हैं। वहीं इस सीट से इनेलो के रघबीर सिंह तीसरे स्थान पर रहे. इस तरह बहू ने अपने ससुर की पार्टी को भी मात दी है. अब भाजपा-जजपा के मिलने से बनने जा रही हरियाणा सरकार में उनका प्रमुख पद के लिए नाम आ रहा है. अगर यह तय रहता है तो वह हरियाणा की पहली महिला उपमुख्यमंत्री रहेंगी. 

हरियाणा बनेगा भाजपा के बेटी बचाओ अभियान का उदाहरण
नैना चौटाला के उपमुख्यमंत्री बनने के बाद हरियाणा देश में बेटी बचाओ के नारे का सफल उदाहरण भी बनेगा. भाजपा ने यहीं से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की शुरुआत की थी. नैना चौटाला राज्य की छठी उपमुख्यमंत्री और पहली महिला उपमुख्यमंत्री हो सकती हैं. अगर ऐसा होता है तो इसे नारी सशक्तिकरण ने नजरिये से भी बदलते हरियाणा की तस्वीर के तौर पर देखा जाएगा.