Gujarat Election: भगवंत मान का वादा, गुजरात में बनी आप की सरकार, तो बिजली बिल में मिलेगी राहत

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान अपने राज्य से लगभग 25 हजार बिजली के ऐसे बिल लेकर यहां पहुंचे जिनकी राशि ‘‘शून्य’’ आई है. उन्होंने वादा किया कि अगर विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनती है तो गुजरात के लोगों को भी बिजली के बिल में इसी तरह की राहत मिलेगी.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Nov 30, 2022, 04:44 PM IST
  • गुजरात में दो चरणों में होगा विधानसभा चुनाव
  • पंजाब में 100 मोहल्ला क्लीनिक की स्थापना
Gujarat Election: भगवंत मान का वादा, गुजरात में बनी आप की सरकार, तो बिजली बिल में मिलेगी राहत

अहमदाबाद: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान अपने राज्य से लगभग 25 हजार बिजली के ऐसे बिल लेकर यहां पहुंचे जिनकी राशि ‘‘शून्य’’ आई है. उन्होंने वादा किया कि अगर विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार बनती है तो गुजरात के लोगों को भी बिजली के बिल में इसी तरह की राहत मिलेगी. ‘आप’ ने गुजरात की सत्ता में आने पर 300 यूनिट बिजली हर महीने मुफ्त देने का चुनावी वादा किया है. 

गुजरात में दो चरणों में होगा विधानसभा चुनाव

गुजरात की 182 सदस्यीय विधानसभा के लिए क्रमश: एक दिसंबर और पांच दिसंबर को दो चरणों में मतदान होगा. मतगणना आठ दिसंबर को होगी. पहले चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार मंगलवार को समाप्त हो गया. मान ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पंजाब में 75 लाख घरों में से 61 लाख घरों का बिजली बिल ‘शून्य’ आया है जो ‘आप’ सरकार की इस प्रतिबद्धता को साबित करती है कि वह जो कहती है उसे पूरा करती है. 

उन्होंने कहा, ‘‘मैं शून्य राशि वाले बिजली के 25 हजार बिल लेकर आया हूं जिनमें दर्ज पते और नाम की आप जांच कर सकते हैं. अब तक पंजाब में लगभग 75 लाख बिजली के मीटर लगे हैं और इनमें से 61 लाख घरों का महीने का बिजली बिल शून्य आया है. मान ने कहा, ‘‘शून्य राशि वाले बिल की संख्या दिसंबर में 67 लाख होगी क्योंकि सर्दियों में बिजली की कम खपत होती है जबकि जनवरी में ऐसे बिल की संख्या 71 लाख होगी. हम जो कहते हैं, वह करते हैं. यही गुजरात में हो सकता है. हमने जो वादा किया है उसे पूरा करेंगे.’’ 

पंजाब में 100 मोहल्ला क्लीनिक की स्थापना

मान ने कहा कि पंजाब सरकार ने 15 अगस्त तक 100 मोहल्ला क्लीनिक की स्थापना की है और उसकी योजना 26 जनवरी तक 500 और मोहल्ला क्लीनिक स्थापित करने की है. उन्होंने कहा कि पंजाब की ‘आप’ सरकार ने सरकारी कर्मचारियों की पुरानी पेंशन योजना बहाल करने की गांरटी दी है और इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है. मान ने कहा कि इस साल जून में राज्य विधानसभा द्वारा पारित एक विधेयक के जरिये पूर्व विधायकों को प्रत्येक कार्यकाल के लिए मिलने वाली बहु पेंशन व्यवस्था को समाप्त करने का प्रावधान किया गया था. 

उन्होंने कहा, ‘‘सरकार एकत्र किये गये कर का इस्तेमाल मुफ्त बिजली, अवसंरचना, सड़क, कॉलेज और मोहल्ला क्लीनिक बनाने के लिए कर रही है. हम 16 मेडिकल कॉलेज की स्थापना कर रहे हैं.’’ मान ने ‘‘कथित गुजरात मॉडल’’ पर निशाना साधते हुए कहा कि जब कोई राज्य में राजमार्ग से उतरकर अन्य इलाकों में जाता है तो वहां पर ‘‘सड़क पर गड्ढे नहीं गड्ढों में सड़क दिखाई देती है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘गुजरात की साढ़े छह करोड़ जनता बदलाव के लिए तैयार है. यहां भी वैसी ही स्थिति है जैसी पंजाब में (विधानसभा चुनाव से पहले जहां पर ‘आप’ ने जबरदस्त जीत दर्ज की) थी.’’ 

यह भी पढ़िए: रामपुर को सपा ने बनाया 'अराजकता का अड्डा', किसने लगाया ये गंभीर आरोप?

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़