close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मध्यप्रदेश में नहीं पूरे हुए वादे! हरियाणा में भी 'कर्जमाफी लॉलीपॉप' थमाने की कोशिश

मध्यप्रदेश में किसानों की कर्जमाफी का वादा करके सत्ता की कुर्सी तक पहुंची कांग्रेस पार्टी ने एक बार फिर पुराना फॉर्मूला अपनाया है. हरियाणा विधानसभा चुनाव को लेकर अपने घोषणापत्र में पार्टी ने एक बार फिर कर्जमाफी का जिक्र किया है.

मध्यप्रदेश में नहीं पूरे हुए वादे! हरियाणा में भी 'कर्जमाफी लॉलीपॉप' थमाने की कोशिश
फोटो साभार: ANI

चंडीगढ़: मध्यप्रदेश में किसानों का कर्जमाफ करने में नाकाम साबित हुई कांग्रेस पार्टी ने एक बार फिर हरियाणा में भी वही मंत्र फूंकने की कोशिश की है. कांग्रेस ने आज हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र जारी करते हुए किसानों के लिए कर्जमाफी और सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए आरक्षण का वादा किया गया है. घोषणापत्र को 'संकल्प पत्र' नाम देते हुए पार्टी ने कई लोकलुभावनी घोषणाएं की हैं.

आइए जानते हैं क्या है घोषणापत्र में..

  • सरकारी नौकरी में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण 

पार्टी ने घोषणापत्र में सरकारी नौकरियों और निजी संस्थानों में महिलाओं को 33 प्रतिशत आरक्षण देने और हरियाणा रोडवेज बसों में मुफ्त सवारी का वादा किया है. घोषणापत्र में पंचायती राज संस्था, नगर पालिका निगमों और नगर पालिका परिषदों में महिलाओं के लिए 50 प्रतिशत आरक्षण का भी वादा किया है. वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि घोषणापत्र में महिलाओं पर प्रमुखता से ध्यान रखा गया है.

  • छात्रों के लिए 12 हजार, 15 हजार की छात्रवृति

घोषणापत्र में छात्रों को वार्षिक छात्रवृत्ति देने का भी वादा किया गया है. कक्षा 1 से 10 तक अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए सलाना 12 हजार रुपये और 11 से 12 तक अति पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए 15 हजार रुपये की छात्रवृत्ति का ऐलान किया गया है.

  • वोट मिलने पर किसान कर्ज माफ करेंगे: शैलजा

हरियाणा कांग्रेस प्रमुख कुमारी शैलजा ने कहा कि अगर पार्टी को वोट मिलता है तो राज्य में किसानों के लिए कर्ज माफी की जाएगी. कुमारी शैलजा ने कहा कि अगर राज्य में कांग्रेस सत्ता में आती है तो एक अनुसूचित जाति आयोग का गठन किया जाएगा. उन्होंने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली हरियाणा सरकार के कथित घोटालों की जांच के लिए एक विशेष जांच पैनल भी स्थापित किया जाएगा. इसके अलावा उन्होंने ड्रग मेनस की जांच के लिए विशेष टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा.

  • राज्य इकाई के प्रमुख नेता रहे शमिल

घोषणापत्र जारी होने के दौरान राज्य कांग्रेस इकाई के सभी प्रमुख नेता मौजूद रहे. पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस विधायक दल के नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा, घोषणापत्र समिति की चैयरपर्सन किरण चौधरी और पूर्व रेल मंत्री पवन कुमार बंसल भी मौजूद रहे.