नक्सलियों को ठेंगा दिखाकर झारखंड में पहले चरण में 62.87% मतदान

झारखंड विधानसभा का पहले चरण के चुनाव के लिए मतदान संपन्न हो गया है. 13 सीटों पर 189 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला ईवीएम में कैद हो गया है. यह सभी नक्सल प्रभावित सीटें हैं. यहां कड़ी सुरक्षा में मतदान संपन्न हुआ. वोटिंग के दौरान पलामू में नक्सलियों द्वारा बम विस्फोट की खबर आई. 

नक्सलियों को ठेंगा दिखाकर झारखंड में पहले चरण में 62.87% मतदान
झारखंड में पहले चरण के चुनाव के लिए 13 जिलों में मतदान संपन्न

रांची: झारखंड विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण में बंपर मतदान हुआ है. छह जिलों की 13 सीटों पर दोपहर 3 बजे तक 57 प्रतिशत मतदान हो चुका था. जो कि मतदान खत्म होते होते 62.87 तक पहुंच गया. 

शांतिपूर्ण रहा मतदान
राज्य में छिटपुट हिंसा को छोड़ दें तो मतदान शांतिपूर्ण रहा. गढ़वा में नक्सलियों ने एक पुल को उड़ा दिया. झारखंड के 6 जिलों की 13 विधानसभा सीटों पर 37,83,055 मतदाता 189 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे. सबसे अधिक 28 उम्मीदवार भवनाथपुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं.

सुबह ही लोगों ने डाल दिए थे वोट
झारखंड विधानसभा चुनाव में पहले चरण में 13 सीटों पर शनिवार दोपहर एक बजे तक 46.83 प्रतिशत मतदान हुआ. चुनाव आयोग के प्रवक्ता ने बताया कि दोपहर एक बजे तक चतरा में 46.21 प्रतिशत, गुमला में 41.90 प्रतिशत, बिशुनपुर में 41.39 प्रतिशत, लोहरदगा में 48.72 प्रतिशत, मनिका में 45.17 प्रतिशत, लातेहार में 52.14 प्रतिशत, पांकी में 45.20 प्रतिशत, डाल्टनगंज में 45.40 प्रतिशत, बिश्रामपुर में 45.80 प्रतिशत, छतरपुर में 47.40 प्रतिशत, हुसैनाबाद में 46.80 प्रतिशत, गढ़वा में 46.32 प्रतिशत और भवनाथपुर में 53.13 प्रतिशत मतदान हुआ.

कांग्रेस प्रत्याशी ने पिस्तौल लहराई

मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ और दोपहर तीन बजे तक चला. इस बीच, डाल्टनगंज में कांग्रेस के प्रत्याशी कृष्णानंद त्रिपाठी और भाजपा समर्थकों के बीच झड़प की खबर मिली है. त्रिपाठी ने मतदान केन्द्र पर कब्जा करने के आरोप लगाया.
उन्होंने कहा कि जब वह स्थिति का जायजा लेने मौके पर पहुंचे तो भाजपा समर्थकों ने उन पर हमला बोल दिया जिसके बाद आत्मरक्षा में उन्हें अपनी पिस्तौल निकालनी पड़ी. त्रिपाठी ने भीड़ के बीच पिस्तौल लहराई. 

घटना के बाद दोनों पक्षों ने चुनाव अधिकारियों से मामले की शिकायत की है. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चैबे ने जिला निर्वाचन पदाधिकारी को मामले की जांच कर रिपोर्ट देने को कहा है. 

चैबे ने बताया कि इस मामले में रिपोर्ट आने के बाद सख्त कार्रवाई की जायेगी. हालांकि इस झड़प के बाद भी इन मतदान केन्द्रों पर पर मतदान शांतिपूर्वक जारी रहा.

 

हताश नक्सलियों ने किया विस्फोट

वहीं आज शनिवार सुबह लगभग साढ़े आठ बजे नक्सलियों ने बिशुनपुर के घाघरा गांव के जंगल में एक पुलिया के निकट विस्फोट किया था. हालांकि किसी भी तरह के जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. पुलिस बल मौके पर मौजूद है और इलाके की घेराबंदी करके जांच की गई. 

अपर पुलिस महानिदेशक एवं झारखंड चुनाव में सुरक्षा व्यवस्था के नोडल अधिकारी मुरारीलाल मीणा ने बताया कि हताश नक्सलियों ने मतदाताओं में भय पैदा करने के लिए बिशुनपुर के बानालाट और वीरानपुर के बीच जंगल में एक पुलिया के निकट यह विस्फोट किया. हालांकि इससे कोई नुकसान नहीं हुआ है.