जल, जमीन और जंगल को जरा सा भी नुकसान नहीं पहुंचने देगी भाजपा सरकार: प्रधानमंत्री मोदी

झारखंड में पहले चरण के चुनाव के लिए सुगबुगाहट और चुनावी रैलियों की आवाजें तेज हो गई हैं. भाजपा के लिए प्रचार करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज डालटनगंज और गुमला में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुरुआत तीन दिन पूर्व लातेहार में शहीद हुए पुलिस के जवानों को में श्रद्धांजलि देते हुए की. और कहा कि "मैं उनके परिवारजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं."

जल, जमीन और जंगल को जरा सा भी नुकसान नहीं पहुंचने देगी भाजपा सरकार: प्रधानमंत्री मोदी

रांची: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि "झारखंड में भाजपा सरकार ने पांच सूत्रों पर काम किया है. झारखंड में भाजपा ने भ्रष्टाचार मुक्त प्रदेश बनाया है. नक्सलवाद मुक्त बनाने का प्रयास किया है. पांच साल पहले भ्रष्टाचार, नक्सलवाद का बोलबाला था. पलामू में तो स्थिति और भी बुरी है. अस्पताल की व्यवस्था तक नहीं थी. लेकिन अब धीरे-धीरे हालात बदलते नजर आ रहे हैं. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि झारखंड में यह सब इसलिए भी हो रहा था कि प्रदेश में कोई स्थिर सरकार नहीं थी. पहले जितनी भी सरकारें बनीं सब बस अपनी जेब भरने में लगे हुए थे. इन्होंने संसाधनों का दुरूपयोग किया. प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि उनकी नजर जमीन के नीचे दबे संसाधनों पर थी, जमीन के ऊपर मानव संसाधन पर नहीं." 

पीएम ने कहा यह सरकार गरीबों के पास खुद चलकर आती है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रघुबर दास सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि "प्रदेश में झारखंड में सड़कों की व्यवस्था भी दुरूस्त की जा रही है. उन्होंने ऐलान किया कि वे डालटनगंज में जल्द ही स्टील प्लांट भी लगाने जा रहे हैं. जंगल में आदिवासियों की जमीन की समस्या का निपटारा भी किया जा रहा है. प्रधानंमंत्री ने कहा कि भाजपा सरकार झारखंड में तीन कदमों के लिए प्रतिबद्ध है. आपके जल, जमीन और जंगल को जरा सा भी नुकसान नहीं पहुंचने देगी. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार गरीबों के पास चलकर खुद आती है. सबको आवास मिलेगी. 2022 तक जब देश आजादी के 75 साल पूरे कर लेगा तब उस वक्त तक ऐसा कोई भी नहीं होगा जिसके पास अपना आवास न हो. उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार का उद्हारण दिया." 

यह भी पढ़ें: झारखंड में रघुबर दास की 'लंका' जलाने की तैयारी में सरयू राय

झारखंड में भाजपा की डबल इंजन सरकार का हो रहा फायदा

झारखंड के डालटनगंज में सभा को संबोधित करते हुए कहा कि "दिल्ली में केंद्र सरकार और रांची में रघुबर सरकार के साथ डबल इंजन की सरकार चल रही है और इसका डबल लाभ हो रहा है. उन्होंने कहा कि झारखंड एक ऐसा राज्य है जहां के किसानों को 25,000 का अतिरिक्त लाभ मिला है. एक केंद्र सरकार की योजना से तो दूसरी राज्य सरकार की योजना से, और ऐसा इसलिए हुआ है कि दोनों जगह भाजपा की ही सरकार थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भाजपा ने जितने भी वायदे किए, एक-एक कर वह सारे पूरे करने का प्रयास कर रही है. प्रधानमंत्री ने बार-बार जोर दिया कि हमारे पास समाधान है और वे बस समस्या की बात कर रहे हैं." 

विपक्ष को बताया अयोध्या विवाद के लटकाने का जिम्मेदार

उन्होंने कहा कि "वर्षों तक लातेहार, पलामू और गढ़वा के किसान परेशान रहे और नदी परियोजनाओं को अधर में रखा गया. सरकार यह प्रयास कर रही है कि इसका जल्द से जल्द निपटारा किया जाएगा. प्रधानमंत्री मोदी ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटाए जाने के बाद कांग्रेस के अड़ंगे का जिक्र किया और कहा कि कांग्रेस ने लगभग 70 सालों से लटकाए रखा था. वहीं हाल अयोध्या में भगवान राम मंदिर का भी वहीं हाल किया. कांग्रेस चाहती तो दशकों से चले आ रहे इस विवाद का निपटारा पहले ही किया जा सकता था, लेकिन भाजपा के प्रतिबद्ध सरकार ने इसका फैसला लिया. भाजपा कोई संकल्प लेती है तो उसे सिद्ध करती है. समाजिक न्याय, एक-एक व्यक्ति की मान-मर्यादा भाजपा का मुख्य एजेंडा है." 

अटलजी के प्रयासों से झारखंड के अलग राज्य का सपना हुआ पूरा

"भाजपा की ही देन है कि झारखंड एक अलग राज्य बन सका. दिवंगत अटल बिहारी वाजपेयी की अगुआई वाली सरकार ने जनजातीय समुदाय के लिए एक अलग मंत्रालय बनवाई जो तब तक नहीं बनवाई  गई थी. भाजपा का सबका साथ, सबका विकास के प्रति समर्पण ही पार्टी को मजबूत बनाती है." प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि "30 नवंबर को आपको बस एक बात ही याद रखनी है. आपको बस कमल का फूल ही याद रखना है. आप 30 साल तक भाजपा की सरकार बनावे और अगले 5 साल हम आपको एक मजबूत और विकास वाली सरकार के काम दिखाएंगे."

यह भी पढ़ें: झारखंड में चुनाव आते ही पार्टियों को याद आए आदिवासी