PM नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को सुनाई खरी-खोटी, बताया बीमार! पढ़ें- 10 बड़ी बातें

हरियाणा विधानसभा चुनाव में जहां एक ओर कांग्रेस पार्टी के बड़े से बड़े नेता सुस्त पर गए हैं. तो वहीं भाजपा अपनी पूरी ताकत झोंकने में जुटी हुई है. इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक रैली से कांग्रेस को बीमार बताया और कहा कि उनके पेट में मरोड़ है.

PM नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को सुनाई खरी-खोटी, बताया बीमार! पढ़ें- 10 बड़ी बातें

नई दिल्ली: देश में सियासी सरगर्मी उफान पर है. विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार का दौर थमने में अब सिर्फ एक दिन बाकी रह गया है. ऐसे में भारतीय जनता पार्टी अपनी पूरी ताकत झोंकने में जुटी हुई है. हालांकि, ये बात और है कि कांग्रेस के बड़े नेता उतने ऐक्टिव नहीं दिख रहे हैं. इस बीच भाजपा के स्टार प्रचारक नंबर 1 और देश के प्रधानमंत्री ने हरियाणा के गोहाना से जब हुंकार भरी तो विरोधियों पर खूब निशाना साधा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस रैली के जरिए सबसे ज्यादा कांग्रेस पार्टी को खरी-खोटी सुनाई. इतना ही उन्होंने इस दौरान कांग्रेस की एक बीमारी का भी जिक्र किया और उस बीमारी का हवाला देर पार्टी को तबीयत से लताड़ लगाई.

नीचे पढ़ें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 10 बड़ी बातें

1). 'कुछ लोग खुद को शहंशाह मानते हैं'

  • 'जनता जर्नादन तो ईश्वर का रूप होती है. लेकिन जो जनता जर्नादन को ईश्वर न मानते हुए खुद को ही शहंशाह मानने लग जाते हैं, अहंकार में सातवे आसमान में पहुंच जाते हैं तो उनका वही हाल होता है जो हरियाणा की जनता ने लोकसभा चुनाव में करके दिखाया है. जिन्होंने हरियाणा की शांत, समर्थ और संकल्पशील बिरादरी में बंटवारे का जहर घोलने का प्रयास किया, उनको आपने सबक सिखा दिया. लोकतंत्र में जनता ही सर्वोपरि है, उसकी इच्छा ही सबसे ऊपर होती है'

2). 'किसान, जवान और पहलवान को किय मजबूत'

  • 'सोनीपत का मतलब ही है किसान, जवान और पहलवान. सोनीपत की इस त्रिशक्ति को मजबूत करने के लिए भाजपा सरकार ने भरपूर कोशिश की है. अगले पांच साल में इसी त्रिशक्ति के आधार पर हमने सशक्त हरियाणा, सशक्त भारत बनाने का फैसला किया है.'

3). 'हमने विकास की सबसे बड़ी रुकावट हटाई'

  • '5 अगस्त को वो हुआ, जिसकी देश ने एक तरह से उम्मीद ही छोड़ दी थी. 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर में भारत का पूरा संविधान लागू हुआ. 70 साल से जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के विकास में जो सबसे बड़ी रुकावट थी, वो हमने हटा दी. 5 अगस्त से कांग्रेस और उनकी साथ मिलीभगत वालों के पेट में ऐसा दर्द उठा है, जिसपर कोई दवा काम नहीं कर पा रही. पेट में दर्द, कांग्रेस की लाइलाज बीमारी बन गया है.'

4). 'कांग्रेस को एक बीमारी हुई है'

  • 'कांग्रेस को ऐसी बीमारी हुई है कि हम स्वच्छ भारत की बात करते हैं तो कांग्रेस के पेट में मरोड़ होने लगती है. सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं तो कांग्रेस के पेट का दर्द बढ़ जाता है. कोई बालाकोट का नाम लेता है तो कांग्रेस दर्द के मारे छटपटाने लगती है. अब तो देश भी यह जान गया है कि कांग्रेस को ये दर्द होता क्यों है? किसकी हमदर्दी किसके लिए है. आपने देखा होगा कि कांग्रेस के नेताओं के कश्मीर पर जो बयान आए वो किसके काम आ रहे हैं, उसका लाभ कौन उठा रहा है, कहां-कहां उसका इस्तेमाल किया जा रहा है.'

5). 'PAK के साथ कांग्रेस की कौन सी केमिस्ट्री?'

  • 'पाकिस्तान के साथ कांग्रेस की कौन सी केमिस्ट्री है? ये किसके लिए है? इस चुनाव में आपको इसका जवाब ढूंढना ही होगा. कांग्रेस को हरियाणा के उन वीर सपूतों की भावनाओं से बिल्कुल फर्क नहीं पड़ता, जो जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की सुरक्षा के लिए वहां डटे हुए हैं. कांग्रेस ने मोदी को जितना भला-बुरा कहना है, कहे, लेकिन भारत मां का तो गौरव करें. सीमाएं इतनी भी न लाघें कि जो देश का नुकसान हो. 370 को हटाने की सबसे बड़ी विरोधी रही कांग्रेस अब हरियाणा को संभालने के लिए कोशिश कर रही है.'

6). 'कांग्रेस को शहीदों का ख्याल नहीं'

  • 'कांग्रेस को हरियाणा की उन माताओं की, उन बेटियों की संवेदना का बिल्कुल ख्याल नहीं है, जिन्होंने अपने सपूतों को, अपने सुहाग को, अपने पिता को मां भारती के लिए शहीद होते हुए देखा है. जिनको मां भारती की चिंता नहीं है, जिन्हें माटी की चिंता नहीं है, उनकी चिंता हरियाणा कर सकता है क्या? इस चुनाव में ऐसे लोगों को चुन-चुक कर बाहर कर दीजिए.'

7). 'कांग्रेस का कुशासन'

  • 'कांग्रेस के कुशासन में ना तो जवान सुरक्षित था, ना हरियाणा के किसान और न ही खिलाड़ियों का हित. किसान के खेत पर इन्होंने भ्रष्टाचार की फसल उगाई और खेल में इन्होंने घोटालों की उपज काटी.'

8). भ्रष्टाचार को लेकर किया वार

  • '5 साल पहले भारत के खेलों से घोटाले-भ्रष्टाचार की खबरें आती थीं, खेल की चर्चा ही नहीं होती थी. बीते 5 साल में खेल के मैदान से आ रही गौरव और सम्मान खबरें देश की युवा शक्ति को प्रेरणा दे रही है'

9). किसानों को पहुंचा योजना का फायदा

  • 'पीएम किसान सम्मान निधि से हरियाणा के लाखों किसान परिवारों को सीधी आर्थिक मदद बैंक खाते में पहुंच रही है. इतना ही नहीं, जो छोटे और मझोले किसान परिवार हैं, जो खेतों में मजदूरी करते हैं, उनके लिए मासिक पेंशन योजना भी शुरू हो चुकी है.'

10). 'रोजगार के नए अवसर'

  • 'गन्नौर में रेल कोच फैक्ट्री के काम का शुभारंभ करने का मुझे अवसर मिला था. ये फैक्ट्री ऐसे समय में बनी जब देश में रेलवे का अभूतपूर्व विस्तार हो रहा है. आधुनिक और तेज रफ्तार ट्रेन टैक पर उतारी जा रही है और भारत विदेशों को भी अब ट्रेन कोच निर्यात कर रहा है. उद्योग हो, रोज़गार निर्माण हो, इसका सीधा संबंध इंफ्रास्ट्रक्चर है. हरियाणा में आज अगर उद्योगों का दायरा बढ़ रहा है, तो इसका कारण है यहां के इंफ्रास्ट्रक्चर में सुधार हो रहा है. बीते पांच वर्षों में यहां आठ नेशनल हाईवे का निर्माण हुआ है.'

यहां सुने पीएम का पूरा भाषण-

भाजपा कांग्रेस समेत अपने सभी विरोधियों को हर मुद्दे पर घेरने को तैयार है. आपको बता दें, आगामी 21 तारीख को हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के लिए वोटिंग होनी है. जिसके बाद 24 अक्टूबर को मतगणना की जाएगी.