close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जानिए कौन हैं दुष्यंत चौटाला? जो बन गए हैं भाजपा-कांग्रेस दोनों की जरुरत

दुष्यंत चौटाला ने अभी कुछ 10-11 महीने पहले ही जननायक जनता दल पार्टी बनाई और आज वह हरियाणा के विधानसभा चुनाव में किंगमेकर बन रही है. भाजपा-कांग्रेस दोनों की नजर इसके मुखिया दुष्यंत चौटाला की तरफ है जो खुद को डिप्टी पीएम रह चुके देवीलाल की राजनीति का असली वारिस कहते हैं.

जानिए कौन हैं दुष्यंत चौटाला? जो बन गए हैं भाजपा-कांग्रेस दोनों की जरुरत

चंडीगढ़ः दुष्यंत चौटाला, देश के डिप्टी पीएम चौधरी देवीलाल के परिवार से आने वाले और इस वक्त जननायक जनता दल का अध्यक्ष. 31 साल के इस युवा के परिचय में अभी तक यह तीन बातें प्रमुखता से थीं, लेकिन मतगणना के बाद आए रुझानों से अब चौटाला खानदान का यह चिराग किंगमेकर के नाम से पहचाना जा रहा है. बीजेपी जीत तो रही है, लेकिन बहुमत से दूर है. कांग्रेस, जिसकी हार तय थी, उसने हरियाणा में दम भरते हुए वापसी की है ऐसे में सूत्र बता रहे हैं कि दोनों ही दलों ने जजपा नेता दुष्यंत चौटाला से संपर्क किया है. मतगणना जारी है और फिलहाल हरियाणा की सीएम कुर्सी का रास्ता दुष्यंत की ओर से होकर जा रहा है... कौन है यह 31 साल युवा, जानिए यहां

बनाया सबसे कम उम्र में सांसद बनने का रिकॉर्ड
दुष्यंत चौटाला हिसार के रहने वाले हैं, और हरियाणा के कद्दावर नेता रहे चौधरी देवीलाल के परिवार से आते हैं. ओमप्रकाश चौटाला के पोते दुष्यंत को राजनीति विरासत में मिली लेकिन अपनी साख खुद की बनाई हुई जमीन से हासिल की है. पहली बार वह 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान चर्चा में आए जब उन्होंने कुलदीप बिश्नोई को हराया था. उस वक्त उन्होंने सबसे कम उम्र में सांसद बनने का रिकॉर्ड बनाया था. 

पिछले ही साल बनाई पार्टी
दुष्यंत को पिछले साल दिसंबर में इंडियन नेशनल लोकदल से बाहर कर दिया गया था. इसके बाद उन्होंने जननायक जनता दल पार्टी का गठन किया और जींद में बड़ी रैली की. इस रैली में जुटी छह लाख लोगों की भीड़ ने चौटाला के हौसले काफी बुलंद किए. इसे उनकी पार्टी की बड़ी सफलता के तौर पर देखा गया. दरअसल जींद ही दुष्यंत के लिए वह जमीन बनी जहां से उनकी सफलता की नींव पड़नी शुरू हुई. 

अब कांग्रेस और भाजपा दोनों के लिए जरूरी
ताजा स्थिति के अनुसार हरियाणा में हंग असेम्बली (त्रिशंकु विधानसभा) बनने के आसार दिख रहे हैं. ऐसे में कांग्रेस और भाजपा दोनों की आंखें जननायक जनता पार्टी के नेता दुष्यंत चौटाला की ओर देख रही हैं. इसलिए फिलहाल छोटे चौटाला का कद हरियाणा में अभी काफी बड़ा हो गया है. उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि 11 महीने पहले लोग हमारी पार्टी के बच्चों की पार्टी कहते थे. आज हमारे प्रत्याशी बड़ेृ-बड़े प्रत्याशियों को हरा रहे हैं. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी विधायकों को बुलाकर बैठक करेगी और फैसला लेगी. 

कैलिफोर्निया में हुई पढ़ाई
दुष्यंत चौटाला की पढ़ाई-लिखाई कैलिफोर्निया स्टेट यूनिवर्सिटी से हुए है. वह यहां से ग्रेजुएट हैं. इंडियन लोक दल से बाहर किए जाने के बाद भी वह कहते रहे हैं कि वही देवीलाल की असली विरासत हैं. बताते हैं कि 1996 के लोकसभा चुनाव में वह परिवार के मुखिया देवी लाल के साथ रोहतक में प्रचार के दौरान हुआ करते थे. राजनीति का गुणा-गणित उन्होंने उसी बचपन से सीखा है. फिलहाल यह कुछ देर में साफ हो जाएगी दुष्य़ंत किस ओर जाना जरूरी समझेंगे