Me too again: ''मुझे बताया था कि काम के लिये सेक्स करना पड़ता है''- बोली दंगल गर्ल

फातिमा सना शेख है 'दंगल गर्ल' जिन्होंने किया है ये हैरान कर देने वाला खुलासा..और बताया कि उनसे   कहा गया था कि सिर्फ सेक्स ही काम पाने का तरीका है..

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Oct 31, 2020, 07:35 AM IST
  • फातिमा ने इन्टर्व्यू में खोला राज़
  • हुए थे बहुत से रिजेक्शन
  • करना पड़ा सेक्सिज़म का सामना
  • ''तीन साल में हुआ था उत्पीड़न मेरे साथ''
Me too again: ''मुझे बताया था कि काम के लिये सेक्स करना पड़ता है''- बोली दंगल गर्ल

नई दिल्ली.  मीटू जब छुप कर होता रहा, तब भी सबको पता था पर कोई हैरान नहीं था. मीटू जब खुलासा बन गया तो लोग हैरान होने लगे मी टू की हर कहानी पर. अब फिर से काफी दिनो बाद उठी है मी टू की एक नई और सच्ची कहानी जो सामने लाई है दंगल गर्ल फातिमा शेख.

 

इन्टर्व्यू में खोला राज़

दंगल गर्ल के नाम से प्रसिद्ध हैं अभिनेत्री फातिमा शेख. हाल ही में एक इन्टरव्यू के दौरान फातिमा ने किया है ये खुलासा जो तर असल फिल्मी दुनिया का एक खुला हुआ राज़ है. उन्होंने बताया कि जब उन्होंने शुरू में फिल्मी दुनिया में कदम रखा था तब उनको बताया गया था कि यहां काम पाने का एक ही तरीका है - सेक्स करना पड़ता है. 

ये भी पढ़ें. ''यौन संबन्ध बनाने के लिये किया जाता है ब्लैकमेल''

हुए थे बहुत से रिजेक्शन

पहली ही फिल्म दंगल से हिट हो जाने वाली दंगल गर्ल इस इन्टर्व्यू के दौरान अपने फिल्मी करियर की यात्रा पर बात कर रही थीं. उन्होंने बताया कि हालांकि आज उनके टैलेन्ट की कद्र हो रही है लेकिन जब वे शुरू में मुंबई आईं थीं तो उन्हें बहुत से रिजेक्शन्स का सामना करना पड़ा था.

ये भी पढ़ें. कविता कौशिक को भेजता था अपने प्राइवेट पार्ट की पिक्स

करना पड़ा सेक्सिज़म का सामना

इन्टर्व्यू के दौरान फातिमा ने बताया कि शुरूआती दौर मुंबई में बहुत आसान नहीं था उनके लिये. उन्हें  यहां करियर के शुरुआती दौर में सेक्सिज्म का सामना करना पड़ा था. उन्होेने कहा कि उसके बाद कास्टिंग काउच उनके सामने आया और उनसे साफ साफ कहा गया कि काम पाने का सिर्फ एक ही तरीका है औऱ वो है सेक्स.

ये भी पढ़ें. दस फ्लाइट्स में महिलाओं को निर्वस्त्र करके हुई तलाशी

''तीन साल में हुआ था उत्पीड़न मेरे साथ''

.दूसरा बड़ा खुलासा फातिमा ने इस इन्टर्व्यू के दौरान अपनी जिन्दगी को ले कर किया जो फातिमा की बहादुरी की जिन्दा मिसाल है. फातिमा ने कहा कि कास्टिंग काउच को न कहने के कारण मुंबई मुझे भी काम से हाथ धोना पड़ा है. पर बाहर भी तो यही सब हो रहा है. मैं जब तीन साल की थी तो मुझे उत्पीड़न का शिकार होना पड़ा था. इसी बात से समझा जा सकता है कि सेक्सिज्म समाज में कितना गहरी पैठ बना चुका है.

ये भी पढ़ें. अमीषा पटेल ने कहा -बिहार में दुष्कर्म तक हो सकता था उनके साथ

देश और दुनिया की हर एक खबर अलग नजरिए के साथ और लाइव टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐपजो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा... नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़