पोलैंड में पढ़ी गयी हरिवंश राय बच्चन की 'मधुशाला', भावुक हुए अमिताभ

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन इन दिनों जानलेवा और भयानक महामारी कोरोना वायरस से जंग लड़ रहे हैं. वे बहुत दृढ़ निश्चयी और साहसी अभिनेता हैं जिन्होंने कई बीमारियों को पराजित किया है.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Jul 22, 2020, 12:22 PM IST
    • पोलैंड में पढ़ी गयी हरिवंश राय बच्चन की 'मधुशाला'
    • पोलैंड यूनिवर्सिटी के छात्रों ने किया कविता पाठ
पोलैंड में पढ़ी गयी हरिवंश राय बच्चन की 'मधुशाला', भावुक हुए अमिताभ

मुंबई: पोलैंड में महान लेखक और अमिताभ बच्चन के पिता हरिवंश राय बच्चन की चर्चित और लोकप्रिय कविता 'मधुशाला' का पाठ किया गया. बच्चों ने जब इस कविता का सुंदर पठन किया तो इसे सुनकर खुद अमिताभ बच्चन भावुक हो गए. उन्होंने एक इमोशनल पोस्ट लिखकर अपने फैंस से ये खुशी के पल शेयर किए.

पोलैंड यूनिवर्सिटी के छात्रों ने किया कविता पाठ

 

गौरतलब है कि हाल ही में पोलैंड की सिटी व्रोकला को साहित्य के यूनेस्को शहर से सम्मानित किया गया था. इस कार्यक्रम में पोलैंड यूनिर्वसिटी के छात्रों ने लेखक हरिवंश राय बच्चन की चर्चित कविता 'मधुशाला' का पाठ किया. इस वीडियो को देखकर अमिताभ बच्चन भी भावुक हो और सोशल मीडिया पर यह पोस्ट शेयर किया.

जानिये क्या लिखा अमिताभ बच्चन ने-

मधुशाला का पाठ करते हुए छात्रों का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब देखा जा रहा है. इसी वीडियो को शेयर करते हुए अमिताभ बच्चन ने लिखा कि कविता सुनकर मेरे आंसू निकल गए, पोलैंड की सिटी व्रोकला को साहित्य के यूनेस्को शहर से सम्मानित किया गया था. आज उन्होंने विश्वविद्यालय भवन की छत पर छात्रों द्वारा बाबूजी की कविता मधुशाला का पाठ किया. वह इससे यह संदेश देना चाहते हैं व्रोकला डॉ. हरिवंश राय बच्चन का शहर है.

ये भी पढें- अशोक गहलोत खेमे को झटका, 24 जुलाई तक स्पीकर के फैसले लेने पर रोक

व्रोकलॉ को मिला सिटी ऑफ लिटरेचर का सम्मान

आपको बता दें कि सिटी ऑफ लिट्रेचर यूनेस्को के व्यापक 'क्रिएटिव सिटी नेटवर्क' के 7 क्रिएटिव फील्ड में से एक है। 2004 में यह नेटवर्क लॉन्च किया गया था. यूनेस्को द्वारा सिटी ऑफ लिट्रेचर का सम्मान पोलैंड के व्रोकलॉ शहर को मिला है. सिटी ऑफ लिट्रेचर में शामिल होने के लिए शहर को यूनेस्को के क्राइटेरिया पर फिट बैठना होता है और व्रोकलॉ को 2019 में यह सम्मान दिया गया गया.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़