• देश में कोविड-19 से सक्रिय मरीजों की संख्या 93,322 पहुंची, जबकि संक्रमण के कुल मामले 1,90,535: स्त्रोत-PIB
  • कोरोना से ठीक होने वाले लोगों की संख्या- 91,819 जबकि अबतक 5,394 मरीजों की मौत: स्त्रोत-PIB
  • PM ने लोगों से आग्रह किया कि कोविड-19 के बीच वे अधिक सतर्क और सावधान रहें, क्योंकि अर्थव्यवस्था का एक बड़ा खंड खोल दिया गया है
  • आज से शुरू होगी 200 स्पेशल ट्रेनें, पहले दिन 1.45 लाख से भी अधिक यात्री सफर करेंगे
  • थर्मल स्क्रीनिंग के लिए यात्रियों को ट्रेन रवाना होने से 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना होगा
  • एनटीए ने विभिन्न परीक्षाओं के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथियों को आगे बढ़ा दिया है
  • वाणिज्य और उद्योग मंत्री ने कोविड-19 के दौरान फार्मास्युटिकल उद्योग के योगदानों व भूमिका की सराहना की
  • अपने वाहन में अक्सर इस्तेमाल में आने वाली सतहों को नियमित रूप से साफ करें। #IndiaFightsCorona

ईरान में फंसे 275 भारतीयों को लाया गया भारत

देशवासियों के लिए जहां भारत व राज्य सरकार तमाम प्रकार की राहत पैकेज की घोषणा कर रही है. वहीं विदेशों में फंसे भारतीयों की मदद के लिए भी भारत सरकार तत्पर है. लगातार विदेशों से भारतीयों को वापस लाया जा रहा है और इसी कड़ी में रविवार को 275 भारतीयों को ईरान से जोधपुर लाया गया है.  

 ईरान में फंसे 275 भारतीयों को लाया गया भारत

जोधपुर: भारत सरकार देश के साथ-साथ विदेशों में फंसे भारतीय की भी मदद के लिए सामने आ रही है. और इसी के तहत लगातार विदेशों में फंसे भारतीय को वापस लाया जा रहा है. रविवार सुबह ईरान में फंसे 275 भारतीयों को जोधपुर लाया गया.

बता दें कि भारत सरकार अब तक मलेशिया, ईरान, इटली समेत कई देशों में फंसे भारतीयों की मदद कर रही है और उन्हें भारत लाया जा रहा है. इसी कड़ी में रविवार सुबह ईरान से करीब 275 भारतीयों को भारत लाया गया है. इन सभी को जोधपूर एयरपोर्ट पर उतारा गया है और उन्हें भारतीय सेना के वेलनेस सेंटर में रखा जाएगा. पहले सभी लोगों की जांच की जाएगी और फिर उन्हें आइसोलेशन में रखा जाएगा.

कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 1000 के करीब पहुंची.

इससे पहले भी ईरान से 277 यात्रियों को जोधपुर लाया गया था. खबरों की मानें तो अभी विदेशों में फंसे भारतीयों की संख्या में इजाफा हो सकता है. भारत सरकार एक-एक करके विदेशों में रह रहे भारतीयों की देशवापसी करवा रही है. विदेशों से आ रहे सभी भारतीय को स्क्रीनिंग करवाई जा रही है और उन्हें आइसोलेशन में रखा जा रहा है. सरकार कोरोना से बचाव को लेकर किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं बरत रही है. एयरपोर्ट पर जांच की उचित व्यवस्था की गई है.