4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा गया 'देशद्रोही' शरजील इमाम

देशद्रोह के आरोपी जेएनयू छात्र शरजील इमाम को स्थानीय अदालत में पेश करने के लिए आज गुवाहाटी लाया गया. यहां अदालत ने उसे 4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया.

4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा गया 'देशद्रोही' शरजील इमाम

गुवाहाटी: जिला कोर्ट ने देशद्रोह के आरोपी शरजील इमाम को चार दिन पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. शरजील इमाम को जांच के लिए गुवाहाटी लाया गया था. इसके बाद पुलिस रिमांड पर लेने के लिए स्‍थानीय कोर्ट में प्रस्‍तुत किया गया था. आपको बता दें कि शरजील ने नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में आयोजित प्रदर्शन में असम को देश से काटने और भारत भर में हिंसा को बढ़ावा देने की बात कही थी. 

शरजील की बहुत खतरनाक मंशा थी

 

पुलिस की जांच में पता चला कि देश में दंगा भड़काने के लिये और मुस्लिम समुदाय को उकसाने के लिये शरजील इमाम ने भ्रामक और गुमराह करने वाले पोस्टर छपवाए थे. शरजील इमाम शातिर तरीके से एक मुस्लिम समुदाय के लोगों को भड़काने का काम कर रहा था और उसकी मंशा CAA विरोध की आड़ में मुस्लिम समुदाय का बड़ा नेता बनने की थी. पुलिस के मुताबिक शरजील कट्टर सोच रखने वाले कई लोगों से सोशल मीडिया और वाट्सएप से जुड़ा था.

शरजील के PFI से जुड़े होने की आशंका

शरजील इमाम के वाट्सएप ग्रुप पर प्रतिबंधित संगठन पीएफआइ के सदस्य जुड़े हुए हैं, ऐसे में उसके आतंकी संगठनों से भी जुड़े होने की आशंकाओं को बल मिलता है. लिहाजा पुलिस को शक है कि उसका संबंध किसी आतंकी संगठन से भी हो सकता है. दिल्‍ली पुलिस का मानना है कि ऐसा भी हो सकता है कि शरजील इमाम आतंकी संगठनों के भी संपर्क में रखता हो.

17 और आरोपियों के नाम शामिल

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान जामिया और न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने अदालत में आरोप पत्र दाखिल कर दिया है. इसमें दिल्ली पुलिस ने जेएनयू के छात्र शरजील इमाम समेत 17 लोगों के नाम शामिल किए हैं. शरजील पर पर हिंसा भड़काने का आरोप लगाया गया है. आरोप पत्र 13 फरवरी को पेश किया गया था.

ये भी पढ़ें- ओवैसी के मंच से 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाने वाली लड़की पर लगा राजद्रोह