प्रधानी के चुनाव में हार पचा नहीं पाया पूर्व प्रधान, बौखलाकर जेसीबी से खुदवा डाली गांव की सड़क

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी से बहुत ही अजीबो-गरीब मामला सामने आया है. यहां एक प्रधान प्रत्याशी ने चुनाव हारने के बाद गांव की सड़क ही खुदवा डाली है. 

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : May 7, 2021, 03:47 PM IST
  • चुनाव हारने पर सड़क खुदवाकर निकाला गुस्सा
  • चुनाव में तीसरे स्थान पर रहा पूर्व प्रधान
प्रधानी के चुनाव में हार पचा नहीं पाया पूर्व प्रधान, बौखलाकर जेसीबी से खुदवा डाली गांव की सड़क

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में एक गांव में प्रधानी के चुनाव के बाद बड़ा अजीबो-गरीब मामला सामने आया है. बाराबंकी जिले के मीरपुर गांव के एक पूर्व प्रधान ने चुनाव हारने के बाद अपनी हरकत से सभी के होश उड़ा दिए हैं. 

आजतक हम यह सुनते आए थे कि चुनाव हारने के बाद गांव का एक प्रत्याशी ने दूसरे के साथ मारपीट कर ली अथवा दो गुटों में लड़ाई हो गई. लेकिन चुनाव हारने के बाद मीरपुर गांव के प्रधान ने अपनी बौखलाहट में जो कदम उठाया है, वह वाकई अजीब है. 

सड़क खुदवाकर निकाला गुस्सा

बाराबंकी जिले में सुबेहा थाना क्षेत्र के रोहना मीरपुर ग्राम पंचायत के अहिरन सरैयां गांव के पूर्व प्रधान दीपक कुमार तिवारी ने चुनाव हारने के बाद जो हरकात की है, उससे सभी गांव वाले सकते में हैं. 

ग्राम पंचायत के चुनाव में दीपक को तीसरा स्थान मिला, जिसके बाद वह गुस्से से तमतमा गया. वह चुनाव में हुई हार को बर्दाश्त नहीं कर सका और उसने गांव से अपने गुर्गों को बुलाकर जेसीबी मशीन से गांव की पूरी सड़क ही खोद डाली, जो कि उसने अपने कार्यकाल में बनवाई थी. 

पूर्व प्रधान ने अपने कार्यकाल में बनाई गई तकरीबन 200 मीटर सड़क का नामोनिशान ही मिटा दिया.

यह भी पढ़िए: बिहार: लॉकडाउन में पिंपल्स के इलाज, बाल प्रत्योरापण के लिए मांगे जा रहे ई पास

ग्रामीणों ने दर्ज कराई शिकायत

पूर्व गांव प्रधान की इस अजीब हरकत के बाद गांव के लोगों ने अधिकारियों के पास पूर्व प्रधान दीपक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. इस मामले पर अपनी बात रखते हुए गांव के पूर्व प्रधान कृपा शंकर तिवारी ने बताया कि इस बार के चुनाव में दीपक तिवारी तीसरे नंबर पर आया. 

गांव के लोगों से कम वोट मिलने पर उसने गुस्से में आकर अपने गुर्गोप्न के साथ मिलकर जेसीबी से गांव की सड़क ही खुदवा डाली. कृपा शंकर तिवारी ने बताया कि इस बार पंचायत चुनाव में साइना गांव के निवासी रामबाबू शुक्ला यहां से प्रधान हुए हैं.

दीपक को इस चुनाव में  तीसरे स्थान से संतोष करना पड़ा है. चुनाव हारने के बाद पूर्व प्रधान ने गांव में 8 साल पहले बनी रोड ही खुदवा डाली. 

इस मामले में ग्रामीणों की शिकायत पर अधिकारियों ने जांच का आदेश दिया है. 

यह भी पढ़िए: वरिष्ठ पत्रकार शेष नारायण सिंह का निधन, कोरोना से थे संक्रमित

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़