दिल्ली में कुल 43 'दागी' MLA, AAP के 62 में से 38 विधायकों पर आपराधिक केस

राजनीति के अपराधीकरण को रोकने के लिए देश की सर्वोच्च अदालत यानी सुप्रीम कोर्ट ने एक अहम फैसला सुनाया है. लेकिन ADR की रिपोर्ट में ये सामने आया है कि दिल्ली के 70 में से 43 विधायक 'दागी' हैं, इनमें AAP के 8 में से 5 विधायकों पर आपराधिक केस दर्ज है.

दिल्ली में कुल 43 'दागी' MLA, AAP के 62 में से 38 विधायकों पर आपराधिक केस

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने आज राजनीति के अपराधीकरण पर चिंता जाहिर है. साफ साफ कहा है कि सभी दल अपनी वेबसाइट पर आपराधिक छवि वाले उम्मीदवारों के चयन की वजह बताएं. ऐसे में आपको ये जानना बेहद जरूरी है कि इस बार दिल्ली विधानसभा में चुनकर आए विधायकों का रिकॉर्ड कैसा है. एडीआर के मुताबिक दिल्ली के 61 फीसदी विधायक 'दागी' हैं.

दिल्ली विधानसभा में कितने 'दागी' विधायक?

  • दिल्ली विधानसभा के 43 विधायकों पर आपराधिक केस
  • AAP के 62 में से 38 विधायकों पर आपराधिक केस
  • AAP के 33 विधायकों पर गंभीर आपराधिक केस 
  • BJP के 8 में से 5 विधायकों पर आपराधिक केस
  • BJP के 4 विधायकों पर गंभीर आपराधिक केस

13 विधायकों पर महिलाओं के खिलाफ हिंसा का आरोप

दिल्ली के नव निर्वाचित 70 में से 13 विधायकों पर महिलाओं के खिलाफ हिंसा करने के आरोप हैं. इनमें से एक विधायक पर बलात्कार का भी आरोप है. इसके अलावा एक विधायक पर हत्या के प्रयास और दो विधायकों पर धोखाधड़ी के आरोप हैं.

एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) की एक रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली के नव निर्वाचित 70 में से 43 (61 फीसदी) विधायकों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले की जानकारी घोषणापत्र में दी है. इनमें से 37 विधायकों के खिलाफ संगीन धाराओं में मामले दर्ज हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली की पिछली विधानसभा में 70 में से 24 विधायकों ने अपने ऊपर आपराधिक मामले घोषित किए थे. इसमें बताया गया है कि आप के 62 में से 33 विधायकों पर गंभीर आपराधिक मामले हैं. इस रिपोर्ट में ये भी साफ हुआ है कि भाजपा के आ‍ठ में से पांच में से चार विधायकों पर संगीन धाराओं में मामले हैं.

AAP के इस विधायक पर रेप का आरोप

आप के रिठाला से विधायक मोहिंदर गोयल ने चुनावी हलफनामें में अपने ऊपर भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (बलात्कार) का मामला दर्ज बताया.
इसके अलावा, आप के अमानतुल्ला खान, दिनेश मोहिनिया, प्रकाश, जरनैल सिंह और सोमनाथ भारती पर भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (महिला की शील भंग करने) का आरोप है.
भाजपा के अभय वर्मा और अनिल वाजपेयी ने खुद पर 354 का मामला दर्ज होने की जानकारी दी है.

एडीआर के मुताबिक आप के 45 विधायक और भाजपा के सात विधायकों ने अपनी संपत्ति एक करोड़ रुपये से ज्यादा बताई है. दिल्ली की नयी विधानसभा के विधायकों की औसत संपत्ति 14.29 करोड़ रुपये है, जो 11 फरवरी को भंग हुई पिछली विधानसभा की 6.29 करोड़ रुपये थी.

दिल्ली के करोड़पति विधायक

आप के 62 विधायकों की औसत संपत्ति 14.62 करोड़ रुपये है और भाजपा के आठ विधायकों की औसत संपत्ति 9.10 करोड़ रुपये है‍. मुंडका से आप के टिकट पर चुनाव जीते धर्मपाल लाकड़ा सबसे धनी विधायक हैं. उनके पास 292 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति है, जबकि मंगोलपुर से आप की विधायक राखी बिड़लान के पास महज 76000 रुपये की संपत्ति है.

धनी विधायकों में आर के पुरम से विधायक प्रमिला टोकस के पास 80 करोड़ रुपये से अधिक की जायदाद है. पटेल नगर से विधायक राजकुमार आनंद के पास 78 करोड़ रुपये की संपत्ति है. वहीं, आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल के पास 3.44 करोड़ रुपये की संपत्ति है. मनीष सिसोदिया के पास 93.50 लाख रुपये की संपत्ति है.

इसे भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट का आदेश, सार्वजनिक करना होगा प्रत्याशी का आपराधिक रिकॉर्ड

दिल्ली विधानसभा के लिए 8 फरवरी को वोटिंग हुई थी और 11 फरवरी को नतीजे सामने आए थे. जिसमें आम आदमी पार्टी को 62 और भारतीय जनता पार्टी के खाते में 8 सीट गई थी. जबकि इस बार भी कांग्रेस पार्टी अपना खाता खोलने में असफल हो गई है.

इसे भी पढ़ें: केजरीवाल के शपथ ग्रहण में नहीं बुलाए जाएंगे दूसरे दलों के नेता