close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पाकिस्तान में पल रहे आतंकी, भारत में आत्मघाती हमले की साजिश

इस साल फरवरी में भारतीय वायुसेना द्वारा जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी शिविरों के किए गए हमलों के बाद खबर मिली है कि एक बार फिर वहां आतंकी प्रशिक्षण चल रहा है. इन आतंकियों को प्रशिक्षण देकर भारत में आत्मघाती हमले को अंजाम दिया जा सकता है.

पाकिस्तान में पल रहे आतंकी, भारत में आत्मघाती हमले की साजिश

नई दिल्ली: पाकिस्तान के बालाकोट में 45-50 आतंकी प्रशिक्षण ले रहे हैं. 8 माह पहले भारतीय वायुसेना ने एयर स्ट्राइक करके जैश-ए-मोहम्मद के कई आतंकियों को मार गिराया था. खुफिया एजेंसियों को जानकारी मिली है कि बालाकोट में चार दर्जन से ज्यादा आतंकी प्रशिक्षण ले रहे हैं.

जैश-ए-मोहम्मद के शिविर में हैं

सरकार से जुड़े उच्च पदस्थ अधिकारी के मुताबिक, ये आतंकी जैश-ए-मोहम्मद के शिविर में प्रशिक्षण ले रहे हैं. माना जा रहा है कि ये इन आतंकियों को आत्मघाती हमलावरों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है. हालांकि भारतीय खुफिया एजेंसियां इन स्थानों पर लगातार नजर बनाए हुए हैं. यहां पर होने वाली हर गतिविधि पर नजर रखने के लिए खुफिया तकनीकी का भी इस्तेमाल किया जा रहा है. 

कश्मीर भी भेजा गया था

खुफिया सूत्रों ने बताया कि यहां प्रशिक्षण हासिल करने वाले कुछ आतंकियों को कश्मीर भी भेजा गया था, ताकि वे भारतीय सुरक्षा ठिकानों पर आतंकी हमले करें. सूत्रों का कहना है कि फरवरी में भारतीय वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक के बाद करीब छह माह तक इन आतंकी शिविरों को बंद रखा गया. पिछले माह सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने खुलासा किया था कि पाकिस्तान ने बालाकोट में अपने आतंकी शिविर फिर से शूरू कर दिए हैं.

वायु सेना कर चुकी है इन आतंकी ठिकानों पर हमला

गौरतलब है कि इस साल 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान के खैबर पख्तूख्वाह प्रांत के बालाकोट में बने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी शिविरों पर बम बरसाकर इन्हें तहस-नहस कर दिया था. भारतीय वायुसेना ने यह कार्रवाई बीते 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले के बाद की थी. पुलवामा हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान मारे गए थे.