UP में टीकाकरण 16 करोड़ पार, सीएम योगी ने ओमीक्रोन को लेकर अफसरों को किया अलर्ट

सीएम ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जहां 16 करोड़ से अधिक कोविड-19 रोधी टीके का सुरक्षा कवच प्रदान किया गया है.   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Nov 30, 2021, 06:11 AM IST
  • नए वेरिएंट पर नजर बनाए हुए है टीम
  • हवाई अड्डों पर की जा रही कोरोना जांच

ट्रेंडिंग तस्वीरें

UP में टीकाकरण 16 करोड़ पार, सीएम योगी ने ओमीक्रोन को लेकर अफसरों को किया अलर्ट

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में टीकाकरण का आंकड़ा 16 करोड़ के पार हो गया है. राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बताया कि उत्तर प्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जहां 16 करोड़ से अधिक कोविड-19 रोधी टीके का सुरक्षा कवच प्रदान किया गया है. 

'जरूर लगवाएं जीत का टीका'
उन्होंने योगी ने ट्वीट किया, ‘जीवन एवं जीविका को सुरक्षित करते हुए उत्तर प्रदेश 16 करोड़ से अधिक कोविड-19 रोधी टीके का सुरक्षा कवच प्रदान करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है. यह उपलब्धि प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन व कर्तव्यनिष्ठ स्वास्थ्य कर्मियों के अथक परिश्रम को समर्पित है. आप भी अवश्य लगवाएं 'टीका जीत का'.’ 

एक सरकारी बयान के मुताबिक कोरोना की पहली और दूसरी लहर पर नियंत्रण पाने वाली राज्य सरकार ने डेल्टा वेरिएंट से भी ज्यादा खतरनाक बताए जा रहे ओमीक्रोन वेरिएंट को गंभीरता से लेते हुए सभी सावधानियां बरतनी शुरू कर दी हैं. मुख्‍यमंत्री ने आला अधिकारियों को अलर्ट मोड पर काम करने के निर्देश दिए हैं. 

विदेश से आने वाले यात्रियों की जांच के निर्देश
उत्तर प्रदेश में इस नए वेरिएंट को लेकर लखनऊ समेत सभी जिलों में विदेश से आने वालों की पड़ताल के निर्देश जारी किए गए हैं. निगरानी समितियों, स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के दलों, जिलाधिकारियों और अन्य अधिकारियों ने जमीनी स्‍तर पर मोर्चा संभाल लिया है. विदेशों से आने वाले यात्रियों की पहचान और कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन किया जा रहा है. 

इसके साथ ही योगी के निर्देशों के बाद कोरोना की दूसरी लहर में गठित की गई विशेषज्ञों की टीम इस नए वेरिएंट पर अपनी पैनी नजर बनाए हुए है. यह टीम विदेश में इस नए वेरिएंट के लक्षण, प्रभाव और इसके खतरे का आकलन करेगी. इस नए वेरिएंट की संक्रमण दर कितनी है डेल्‍टा से कितना खतरनाक ये नया वैरिएंट है और इस नए वैरिएंट पर वैक्‍सीन का कैसा प्रभाव है आदि बातों का आकलन किया जाएगा. 

हवाई अड्डों पर बढ़ाई गई सख्ती
बयान में कहा गया कि प्रदेश के सभी हवाई अड्डों पर सख्ती बढ़ा दी गई है और वहां सभी यात्रियों की नि:शुल्क आरटीपीसीआर जांच भी की जा रही है. विदेश से आने वाले किसी भी यात्री की आरटीपीसीआर जांच कराने और पॉजिटिव निकलने पर नमूना जीनोम सीक्वेंसी के लिए भी भेजा जाएगा. 

यह भी पढ़िएः जानिए कौन हैं Twitter के नए CEO पराग अग्रवाल, भारत से करीब का रिश्ता

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़