किसान चौपाल में दहाड़े Amit Shah, MSP जारी रहेगी यह मेरा वादा

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में किसान चौपाल को संबोधित किया. अमित शाह ने कहा कि MSP बंद नहीं होगी, विपक्ष कोरा झूठ फैला रहा है. इस मौके पर उन्होंने राहुल गांधी और शरद पवार पर निशाने साधे.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 25, 2020, 12:58 PM IST
  • मोदी के मंत्रियों ने किसानों के साथ लगाई चौपाल
  • किसानों के भ्रमजाल को तोड़ने की हो रही कोशिशें
किसान चौपाल में दहाड़े Amit Shah, MSP जारी रहेगी यह मेरा वादा

नई दिल्लीः तकरीबन एक महीने से जारी Farmers Protest को शांत करने के लिए केंद्र सरकार लगातार कोशिश में जुटी है. कई दौर की बातचीत का कोई हल नहीं निकला है. ऐसे में जारी आंदोलन के बीच पीएम मोदी किसानों को शुक्रवार को बड़ी सौगात दे रहे हैं.

इसी के साथ भारतीय जनता पार्टी देश के अलग-अलग हिस्सों में किसान चौपाल का आयोजन कर रही है. इस मौके पर भाजपा के बड़े नेता सीधे किसानों से बात कर रहे हैं और उन्हें सरकार की मंशा समझाने की कोशिश कर रहे हैं. अमित शाह और राजनाथ सिंह दोनों केंद्रीय मंत्रियों ने दिल्ली में किसान चौपाल को संबोधित किया.

MSP रहेगी जारी, विपक्ष बहका रहाः अमित शाह
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में किसान चौपाल को संबोधित किया. अमित शाह ने कहा दस साल तक UPA की सरकार ने सिर्फ 60 हजार करोड़ रुपये का किसानों का कर्ज माफ किया. लेकिन मोदी सरकार ने सिर्फ ढाई साल में दस करोड़ किसानों के खाते में 95 हजार करोड़ रुपये डाले. अमित शाह ने कहा कि MSP बंद नहीं होगी, विपक्ष कोरा झूठ फैला रहा है. इस मौके पर उन्होंने राहुल गांधी और शरद पवार पर निशाने साधे.

शाह ने कहा कि राहुल गांधी, शरद पवार की सरकार 2013-14 में किसानों के लिए सिर्फ 21 हजार 900 करोड़ रुपये का बजट था, लेकिन मोदी सरकार ने इसे 1.34 लाख करोड़ का बजट किया. ये हमसे हिसाब मांग रहे हैं. उन्होंने इसे उल्टा चोर कोतवाल वाली बात कहा. 

राजनाथ सिंह का वादाः MSP कभी खत्म नहीं होगी. 
वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी किसान चौपाल को संबोधित किया. राजनाथ सिंह ने कहा कि विपक्ष आज नए कानूनों को लेकर भ्रम फैला रहा है, मैं वादा करता हूं कि कभी MSP खत्म नहीं होगी. जो विपक्ष आज इन कानूनों का विरोध कर रहा है, वही सरकार में रहते वक्त इन्हें लागू करना चाहते थे. 

अन्य दिग्गज नेता भी कर रहे हैं बातचीत
इस क्रम में शीर्ष नेतृत्व में दिग्गज नेताओं को अलग-अलग स्थानों पर चौपाल के प्रतिनिधित्व की जिम्मेदारी सौंपी गई है. कृषि सम्मान निधि योजना के तहत आज 9 करोड़ किसानों को किस्त सौंपी जाएगी, इस दौरान पीएम मोदी एक साथ 18 हजार करोड़ रुपये ट्रांसफर करेंगे.

इसके साथ ही केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जैसे सभी केंद्रीय मंत्री देश के अलग-अलग हिस्सों में मौजूद रहेंगे और किसानों से बातचीत करेंगे. 

किसको कहां की मिली है जिम्मेदारी
जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में चार प्रमुख स्थानों पर किसान चौपाल का आयोजन किया जा रहा है. इ्समें सबसे प्रमुख महरौली (दिल्ली) है, जहां खुद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह किसानों से सीधे बात कर रहे हैं. इसके अलावा द्वारका में राजनाथ सिंह की चौपाल लगी है.

वित्तमंत्री निर्मला सीता रमण के हाथों रंजीत नगर की चौपाल की कमान सौंपी गई है तो वहीं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन की चौपाल दिल्ली के अग्रसेन चौक पर लगी है. 

यूपी, चेन्नई, बिहार और एमपी में भी किसान चौपाल
किसान चौपाल सिर्फ दिल्ली में ही नहीं बल्कि देश के अन्य राज्यों में भी है. उत्तर प्रदेश में खुद CM Yogi मोहनलाल गंज में किसानों से संवाद करेंगे तो वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी अमेठी में इस जिम्मेदारी को निभाएंगीं.

CM शिवराज सिंह चौहान होशंगाबाद में किसान चौपाल लगा रहे हैं तो पटना (बिहार) में रविशंकर प्रसाद और चेन्नई (तमिलनाडु) में प्रकाश जावड़ेकर किसानों से सीधी बातचीत के लिए तैयार हैं. जगतसिंहपुर, ओडिशा में धर्मेंद्र प्रधान किसानों से बात कर रहे हैं. 

यह भी पढ़िएः Farmers Protest: अटल जयंती पर किसानों से संवाद करेंगे PM Modi

टीवी होगा आपकी मुट्ठी में. डाउनलोड करिए ज़ी हिंदुस्तान ऐप. जो आपको हर हलचल से खबरदार रखेगा.. नीचे के लिंक्स पर क्लिक करके डाउनलोड करें-

Android Link - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.zeenews.hindustan&hl=en_IN

iOS (Apple) Link - https://apps.apple.com/mm/app/zee-hindustan/id1527717234

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़