कोरोना से बचाव कार्यों के लिए सरकार की मदद करने के लिए आए आनंद महिंद्रा

कोरोना वायरस से पूरी दुनिया जुझ रहा है तो कई लोग ऐसे भी हैं जो सरकार की और देशवासियों की मदद करने के लिए सामने आ रहे हैं. भारत में भी कोरोना से जुड़े अबतक 415 मामले सामने आ चुके हैं.   

कोरोना से बचाव कार्यों के लिए सरकार की मदद करने के लिए आए आनंद महिंद्रा

नई दिल्ली: कई कंपनियां और लोग इस समय सरकार की मदद करने सामने आ रहे हैं. इसी कड़ी में आनंद महिंद्र का भी नामम जुड़ चुका है. आनंद महिंद्रा, महिंद्र ग्रुप के चैयरमेन हैं. रविवार को आनंद महिंद्रा ने अपने ट्वीटर अकाउंट से एक के बाद एक कर पांच ट्वीट किए.  

अपने पहले ट्वीट में आनंद ने लिखा कि मैं कोरोना वायरस की बहुत सी रिपोर्ट्स देख रहा था, तो मुझे पता चला कि भारत स्टेज 3 पर है और जिससे  अचानक से कोरोना वायरस के मामले बढ़ सकते हैं. जिस वजह से मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर का भार काफी बढ़ जाएगा.

अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि कुछ हफ्तों के लॉकडाउन से मेडिकल केयर पर बढ़े प्रेशर को घटाया जा सकता है लेकिन फिर भी हमें कुछ अल्पकालिक अस्पतालों का निर्माण करना चाहिए और वेंटिलेटर्स की संख्या को बढ़ाना चाहिए.

LIC ने प्रीमियमधारकों को घर पर रहने को कहा, भूगतान की तारीख आगे बढ़ाई

तीसरे ट्वीट में आनंद ने लिखा कि इस परेशानी की घड़ी का सामना करने के लिए महिंद्रा ग्रुप में हमने अपना काम शुरू कर दिया है और देख रहे हैं कि किस तरह से हमारी मेन्‍युफैक्‍चरिंग फैसिलिटी की मदद से वेंटिलेटर बनाए जा सकते हैं. साथ ही महिंद्रा अपना रिजॉर्ट कुछ वक्त के लिए हेल्थ केयर फैसिलिटी के तौर पर देने के लिए तैयार है.

इसके बाद आनंद ने लिखा कि हमारी प्रोजेक्ट टीम सरकार और आर्मी की मदद के लिए तैयार है. महिंद्रा फाउंडेशन अपने फंड से छोटे व्यवसायों और स्वरोजगार लोगों की मदद करेगा. 

अपने आखिरी ट्वीट में आनंद महिंद्रा ने लिखा कि अगर कोई भी इस फंड में योगदान देना चाहता है तो दे सकता है. मैं अपनी सैलरी का पूरा हिस्सा इस फंड को दूंगा और आने वाले कुछ महीनों में मैं इसमें अपना और भी योगदान दूंगा. मैं सभी व्यवसाइयों से निवेदन करता हूं कि वो भी इस फंड में अपना कुछ योगदान दें ताकि जरूरतमंद लोगों की मदद की जा सके.