सेना प्रमुख बोलेः सीमा पर शांति बनाए रखते हैं भारतीय जवान

सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने गुरुवार को कहा कि दोनों पक्षों ने स्थानीय स्तर पर बातचीत के जरिए मामले को सुलझा लिया. सेना प्रमुख ने एक बार फिर दोहराया कि सैनिकों के बीच हुई झड़प की दोनों घटनाओं का मौजूदा घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्थितियों से कोई संबंध नहीं है.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : May 14, 2020, 09:23 PM IST
    • सेना प्रमुख ने एक बार फिर दोहराया कि सैनिकों के बीच हुई झड़प की दोनों घटनाओं का मौजूदा घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्थितियों से कोई संबंध नहीं है
    • आर्मी चीफ के इस बयान से पहले चीन ने बुधवार को सफाई देते हुए कहा कि उसके सैनिक अपने देश की सीमा में सामान्य गश्त कर रहे हैं
सेना प्रमुख बोलेः सीमा पर शांति बनाए रखते हैं भारतीय जवान

नई दिल्लीः चीनी सेना के साथ भारतीय सैनिकों की हुई झड़प का मामला फिलहाल तो सुलझ गया है, लेकिन LAC पर हुई इस तरह की घटना से दोनों देशों के बीच अभी तनाव बाकी है. पूर्वी लद्दाख के पैंगोंग त्सो झील क्षेत्र में पिछले दिनों भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई झड़प का मामला सामने आया था. इस मुद्दे पर अब भारतीय सेना प्रमुख एमएम नरवाने ने कहा है कि भारतीय सैनिक सीमावर्ती क्षेत्रों में खासकर चीन से लगती सीमा पर हमेशा शांति बनाए रखते हैं. हमारी उत्तरी सीमाओं पर इन्फ्रास्‍ट्रक्‍चर क्षमताओं का तेजी से विकास हो रहा है. कोरोना संकट से हमारी सेना को नुकसान नहीं होगा.  

बातचीत से सुलझाया मसला
यह झड़प पूर्वी लद्दाख और उत्तरी सिक्किम में हुई थी. चीनी और भारतीय सैनिकों के बीच हुई झड़पों में दोनों पक्षों के जवानों को मामूली चोटें आई थीं. इसकी जानकारी देते हुए सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवाने ने गुरुवार को कहा कि दोनों पक्षों ने स्थानीय स्तर पर बातचीत के जरिए मामले को सुलझा लिया. सेना प्रमुख ने एक बार फिर दोहराया कि सैनिकों के बीच हुई झड़प की दोनों घटनाओं का मौजूदा घरेलू और अंतरराष्ट्रीय स्थितियों से कोई संबंध नहीं है.  

चीन पहले ही पेश कर चुका है सफाई
आर्मी चीफ के इस बयान से पहले चीन ने बुधवार को सफाई देते हुए कहा कि उसके सैनिक अपने देश की सीमा में सामान्य गश्त कर रहे हैं. साथ ही उसने भारत से आग्रह किया कि हमें इस मसले पर उलझनें बढ़ाने से बचना होगा. चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान का कहना था कि सैनिकों की झड़प को लेकर दोनों देश राजनयिक स्तर पर संपर्क में हैं. उन्‍होंने यह भी कहा कि चीनी सैनिक LAC पर अपने चीन के इलाकों में गश्त कर रहे हैं. 

तीसरे विश्वयुद्ध की आहट, जानिए कैसे हो सकती है शुरुआत

LAC सही तरीके से परिभाषित नहीं- नरवाने
बुधवार को दिए गए बयान में सेना प्रमुख ने कहा था कि इस प्रकार की झड़पें पहले भी होती रही हैं. हम इनका दो देशों के बीच के प्रोटोकॉल के मुताबिक समाधान निकालेंगे. आर्मी चीफ नरवाने ने यह भी कहा था कि सेना का मनोबल काफी ऊंचा है. चूंकि LAC सही तरीके से परिभाषित नहीं है, लेकिन यह तय है कि इससे संबंधित मुद्दों को दो देशों के बीच के तय प्रोटोकॉल के तहत निपटाया जाएगा.

कोरोना वायरस: चीन पर अंतरराष्ट्रीय शिकंजा, ऑस्ट्रेलिया ने दिखाए कड़े तेवर

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़