सेना प्रमुख ने किया कश्मीर से 370 हटाने का समर्थन

मोदी सरकार की  कश्मीर-क्रांति का समर्थन करते हुए भारतीय सेना प्रमुख ने कहा कि ये कश्मीर के हित में उठाया गया कदम है. उन्होंने कहा कि धारा 370 हटाना जरुरी था.   

सेना प्रमुख ने किया कश्मीर से 370 हटाने का समर्थन

नई दिल्ली. देश में राष्ट्रवादी सरकार का विरोध कर रहे लोगों का राष्ट्रविरोधी चेहरा बेनकाब होता जा रहा है. चाहे वो कश्मीर में धारा 370 हटाने की बात हो या नागरिकता संशोधन क़ानून -राष्ट्रविरोधी तत्व एक सुर में विरोध करते नज़र आ रहे हैं. ऐसे में राष्ट्र की सेना के प्रमुख का बयान राष्ट्रहित में उठाये कदमों का स्वागत करता है, तो वहीं वह सरकार का ही नहीं, देशवासियों का भी मनोबल बढ़ता है.

370 के समापन को बताया ऐतिहासिक कदम 

भारतीय सेना के प्रमुख जनरल नरवणे ने कश्मीर को लेकर उठाये गए सरकार के कदमों की सराहना की है. धारा तीन सौ सत्तर को उन्होंने ऐतिहासिक कदम बताते हुए कहा कि अब इस व्यवधान के हट जाने से जम्मू और कश्मीर को राष्ट्र की मुख्य धारा से जुड़ने में सहयोग मिलेगा.

आतंक और आतंकियों, सावधान हो जाओ!

सेना प्रमुख के आतंक और आतंकियों के खिलाफ कड़े इरादे जम्मू कश्मीर में छुपे हुए और कश्मीर में पाकिस्तान से घुसपैठ करने वाले आतंकियों को समझ में आ गए हैं. जनरल नरवणे ने आते ही सबसे पहले तो आतंक की फैक्ट्री पाकिस्तान को चेतावनी दी थी. अब उन्होंने कश्मीर और देश भर में आतंक की साजिश करने वाले राष्ट्रविरोधी और मानवताविरोधी तत्वों को भी अपने निशाने पर ले लिया है. जनरल नरवणे ने कहा कि आतंक के विरुद्ध हमारे पास एक नहीं, अनेक विकल्प हैं. 

''देश के सैनिक देशवासियों के दिल में रहते हैं''

72 वें सेना दिवस पर अपने सम्बोधन में आर्मी चीफ जनरल नरवणे ने उपरोक्त बातें कहीं. उन्होंने आगे कहा कि हम आतंक के खिलाफ लड़ाई के लिए अपने विकल्पों को इस्तेमाल करने से पीछे नहीं हटेंगे. हमारे सैनिक मुश्किल इलाकों में तैनात हो कर देश की रक्षा करते हैं लेकिन वो देश के लोगों के दिल में रहते हैं और हमें उन पर गर्व है.

ये भी पढ़ें. राहुल पर टिप्पणी बर्दाश्त नहीं शिवसेना को, मुंबई विश्वविद्यालय निदेशक की 'छुट्टी'