Bharat Jodo Yatra: कमलनाथ ने धर्म और अध्यात्म पर बीजेपी-RSS को दी राहुल गांधी से बहस की चुनौती

कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने रविवार को भाजपा, आरएसएस और विहिप नेताओं को चुनौती देते हुए कहा कि वे धर्म एवं अध्यात्म के मुद्दे पर पार्टी के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी के साथ चर्चा करें जिससे साबित हो जाएगा कि इन विषयों पर राहुल को इन लोगों की तुलना में अधिक ज्ञान है.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 4, 2022, 04:51 PM IST
  • भारत जोड़ो यात्रा के दौरान बोले कमलनाथ
  • 'संविधान-संस्कृति को बचाना है भारत जोड़ो'
Bharat Jodo Yatra: कमलनाथ ने धर्म और अध्यात्म पर बीजेपी-RSS को दी राहुल गांधी से बहस की चुनौती

नई दिल्लीः कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कमलनाथ ने रविवार को भाजपा, आरएसएस और विहिप नेताओं को चुनौती देते हुए कहा कि वे धर्म एवं अध्यात्म के मुद्दे पर पार्टी के पूर्व प्रमुख राहुल गांधी के साथ चर्चा करें जिससे साबित हो जाएगा कि इन विषयों पर राहुल को इन लोगों की तुलना में अधिक ज्ञान है.

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान बोले कमलनाथ
कमलनाथ ने मध्य प्रदेश में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के अंतिम दिन आगर मालवा जिले के सोयतकलां में संवाददाताओं से कहा, ‘मैं भाजपा, आरएसएस और विहिप नेताओं को चुनौती देता हूं कि वे मीडियाकर्मियों के सामने धर्म और अध्यात्म के मुद्दे पर राहुल गांधी के साथ बैठ जाएं और बहस कर लें.’

'संविधान-संस्कृति को बचाना है भारत जोड़ो'
उन्होंने कहा कि चर्चा से साबित होगा कि राहुल को भाजपा, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) और विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के लोगों की तुलना में धर्म और अध्यात्म का अधिक ज्ञान है. कमलनाथ ने यह भी कहा कि राहुल की ‘भारत जोड़ो’ यात्रा का मुख्य उद्देश्य देश में संविधान और संस्कृति को बचाना है.

'राज्य में यात्रा को मिल रहा भारी समर्थन'
उन्होंने कहा कि यात्रा ने 23 नवंबर को पहली बार किसी हिंदी भाषी क्षेत्र मध्य प्रदेश में प्रवेश किया और राज्य में इसे लोगों से भारी समर्थन मिला है. कमलनाथ ने कहा, ‘भीड़ देखकर मुझे ताज्जुब हुआ. राज्य के सुदूर इलाकों से जो लोग आ रहे हैं, हमने उन्हें आने के लिए आदेश नहीं दिया है. यह इस यात्रा की सफलता को साबित करता है.’ 

पिछले 12 साल से राहुल गांधी की छवि पर सोशल मीडिया के माध्यम से भारतीय जनता पार्टी (BJP)  लगातार हमला किए जाने का आरोप लगाते हुए कमलनाथ ने कहा कि इस यात्रा ने लोगों के बीच राहुल गांधी की छवि को सुधारने में मदद की है. 

'राहुल को प्यार जताने खुद आ रहे लोग'
उन्होंने कहा कि भाजपा कहती थी कि यात्रा केरल में ही समाप्त हो जाएगी, लेकिन उसे हर जगह भारी जन समर्थन मिल रहा है और लोग राहुल के प्रति अपना प्यार जताने खुद आ रहे हैं. कमलनाथ ने कहा कि यात्रा को मध्य प्रदेश के लोगों, विशेष रूप से आम आदमी, महिलाओं और बच्चों से भारी समर्थन मिला है. 

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कन्याकुमारी से शुरू होकर श्रीनगर तक जाने वाली इस यात्रा के बाद संभावना है कि राहुल पूर्व से पश्चिम की ओर एक और यात्रा पर निकालें. उन्होंने कहा कि राहुल ने खुद कहा कि उनकी इस यात्रा को मध्य प्रदेश में विशेष रूप से इंदौर में भारी समर्थन मिला. 

आज शाम राजस्थान में प्रवेश करेगी यात्रा
कमलनाथ ने कहा कि यात्रा के दौरान राहुल ने किसानों, छोटे व्यापारियों, दुकानदारों, महिलाओं, दिव्यांगों, बुनकरों, आदिवासियों, दलितों और सफाई कर्मचारियों के साथ बातचीत की. यह यात्रा आज शाम राजस्थान में प्रवेश करेगी. मध्य प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी ने भी मीडिया को संबोधित किया. 

कमलनाथ ने राज्य में यात्रा को सफल बनाने के लिए लोगों, पार्टी कार्यकर्ताओं और मीडिया के प्रति आभार व्यक्त किया. तमिलनाडु के कन्याकुमारी से सात सितंबर को शुरू हुई ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का आज 88वां दिन है. 

मध्य प्रदेश में 370 किमी तय की गई
गांधी की अगुवाई वाली यह यात्रा महाराष्ट्र से गुजरने के बाद बुरहानपुर जिले के बोदरली गांव से मध्य प्रदेश में 23 नवंबर को दाखिल हुई थी और पिछले 12 दिनों में इस यात्रा ने राज्य में करीब 370 किलोमीटर की दूरी तय की है. यात्रा के आज राजस्थान में प्रवेश करने पर कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई चांवली गांव में राजस्थान की टीम को राष्ट्रीय ध्वज सौंपेगी.

यह भी पढ़िएः शादी वाले दिन डोली की जगह उठी अर्थी, वरमाला के दौरान दुल्हन की हुई मौत

 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

 

 

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़