भवानीपुर में बीजेपी सांसद दिलीप घोष पर हमले के बाद प्रदेश अध्यक्ष बोले- राज्य में कानून व्यवस्था नहीं

हमले के बाद दिलीप घोष ने राज्य सरकार को घेरते हुए अपने प्रचार अभियान में भी कटौती कर दी. उन्होंने कहा कि जब जन प्रतिनिधि पर भवानीपुर में हमले हो सकते हैं तो फिर वहां आम नागरिक कैसे सुरक्षित रह सकता है?   

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Sep 28, 2021, 09:34 AM IST
  • भवानीपुर उपचुनाव में बीजेपी के लिए प्रचार कर रहे थे घोष
  • प्रचार के आखिरी दिन सांसद के साथ की गई मारपीट
भवानीपुर में बीजेपी सांसद दिलीप घोष पर हमले के बाद प्रदेश अध्यक्ष बोले- राज्य में कानून व्यवस्था नहीं

नई दिल्लीः पश्चिम बंगाल की भवानीपुर विधानसभा सीट पर 30 सितंबर को उपचुनाव होना है. इससे पहले प्रचार के आखिरी दिन सोमवार को यहां काफी बवाल हो गया. बीजेपी ने तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर बीजेपी सांसद दिलीप घोष पर हमला करने का आरोप लगाया. इस दौरान टीएमसी और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट भी हुई. 

प्रदेश अध्यक्ष बोले- भवानीपुर में गलत हुआ
दिलीप घोष पर हुए हमले के बाद से बीजेपी नेता तृणमूल कांग्रेस पर हमलावर हैं.

 

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने कहा कि भवानीपुर में गलत हुआ. यह बताता है कि पश्चिम बंगाल में कानून-व्यवस्था नहीं है. वे पार्टी मीटिंग करेंगे. साथ ही बीजेपी आलाकमान से मिलने की कोशिश करेंगे. 

यह भी पढ़िएः सीमा पर हलचल तेज, चीन ने पूर्वी लद्दाख में LAC के पास लगाए नए टेंट

घेरकर किया गया हमला
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भवानीपुर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा घर-घर अभियान चला रही थी. पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष प्रचार कर रहे थे. इसी बीच टीएमसी समर्थकों ने उन्हें घेरा और उन पर हमला कर दिया.

 

उपाध्यक्ष घोष ने ट्विटर के जरिए इस घटना की सूचना दी है. इस हमले के बाद भाजपा ने चुनाव आयोग से मुलाकात की. 

'मुझे मारने की कोशिश की'
वहीं, हमले के बाद दिलीप घोष ने राज्य सरकार को घेरते हुए अपने प्रचार अभियान में भी कटौती कर दी. उन्होंने कहा कि जब जन प्रतिनिधि पर भवानीपुर में हमले हो सकते हैं तो फिर वहां आम नागरिक कैसे सुरक्षित रह सकता है? दिलीप घोष ने आगे दावा किया, भवानीपुर में आज मुझे टीएमसी के गुंडों ने मारने की कोशिश की. उन्होंने ट्विटर पर लिखा, 'भवानीपुर के जगुबबर बाजार में आज मुझ पर टीएमसी के गुंडों ने सुनियोजित हमला किया. मुझे मारने की साजिश थी. यह सत्तारूढ़ दल की जघन्य, भयावह प्रकृति को उजागर करता है.'

ममता बनर्जी हैं उम्मीदवार
बता दें कि भवानीपुर विधानसभा सीट पर 30 सितंबर वोटिंग होनी है. यहां तृणमूल कांग्रेस की ओर से ममता बनर्जी उम्मीदवार हैं, जबकि बीजेपी ने वकील प्रियंका टिबरेवाल को उतारा है. ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री बने रहने के लिए इस चुनाव में जीत जरूरी है, क्योंकि इस साल मई में आए पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजों में उन्हें नंदीग्राम सीट से हार का सामना करना पड़ा था.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़