close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सिद्धू पर छिड़ गया 'सियासी संग्राम'! भाजपा ने कांग्रेस के खिलाफ खोला मोर्चा

भारतीय जनता पार्टी ने मीडिया के सामने आकर अयोध्या पर नेशनल हेराल्ड की रिपोर्ट को लेकर कांग्रेस पार्टी पर जोरदार हमला बोला है. इस दौरान संबित पात्रा ने नवजोत सिंह सिद्धू को भी खूब खरी-खोटी सुनाया.

सिद्धू पर छिड़ गया 'सियासी संग्राम'! भाजपा ने कांग्रेस के खिलाफ खोला मोर्चा

नई दिल्ली: अयोध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का एक ओर जहां सभी सियासी दलों ने स्वागत किया है, तो वहीं कांग्रेस से जुड़े अखबार नेशनल हेराल्ड ने सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर सवाल उठाकर नया विवाद खड़ा कर दिया है. कांग्रेस ने शनिवार को अयोध्या विवाद पर अदालत के फैसले का स्वागत किया था. इसके अलावा पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की थी. लेकिन कांग्रेस से जुड़े अखबार में छपे एक लेख के चलते अब पार्टी घिरती नजर आ रही है.

भाजपा ने किया कांग्रेस पर करारा वार

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर कांग्रेस से जुड़े अखबार नेशनल हेराल्ड की एक रिपोर्ट को लेकर भाजपा ने तीखा हमला बोला है. बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि नेशनल हेराल्ड अखबार में एक लेख लिखकर कहा गया है कि ये फैसला हमें पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट की याद दिलाता है, यह बेहद शर्मनाक है.

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस से माफी की मांग करते हुए कहा कि अखबार कहता है कि इस फैसले के परिणाम भविष्य में देखने को मिलेंगे, भले ही फिलहाल शांति हो. उन्होंने कहा कि ऐसा लिखना सीधे तौर पर भारत को धमकी है. हालांकि दबाव के बाद कांग्रेस ने नेशलन हेराल्ड के लेख पर माफी मांग ली.

इले भी पढ़ें: आखिर सिद्धू को पाकिस्तान से इतना प्यार क्यों है

सिद्धू पर करारा हमला

नेशनल हेराल्ड के लेख के साथ-साथ बीजेपी ने पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के करतारपुर कॉरिडोर के उद्धाटन के मौके पर पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की तारीफ करने को लेकर भी कांग्रेस को घेरा. बीजेपी प्रवक्ता ने आरोप लगाए कि करतापुर जाकर न केवल पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के गीत गए बल्कि पाकिस्तानी सेना चीफ बाजवा का भी जमकर गुणगान किया.

इमरान खान को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू पहली बार सवालों के घेरे में नहीं आए है. बल्कि पिछली बार करतारपुर जाकर भी उन्होने इमरान खान की शान में जमकर कसीदे पढ़े थे. इतना ही नहीं पाकिस्तानी सेना के चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा को भी गले मिलकर झप्पी देते नजर आए थे. हालांकि इसके बाद सिद्धू की मंत्रीपद से छुट्टी हो गई थी. अब देखना ये है कि इस बार कांग्रेस आलाकमान सिद्धू से कैसे निपटता है.