close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

एक दिन के बिहार दौरे से भाजपा कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कई मोर्चे साधे

भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने हाल ही में बिहार का दौरा किया. उस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ मुलाकात करके भाजपा-जेडीयू के रिश्तों में आई दरार को पाटने का काम तो किया ही, बिहार भाजपा के पदाधिकारियों को राष्ट्रवाद का मंत्र देकर अगले चुनाव में जुट जाने का टास्क भी दिया.   

एक दिन के बिहार दौरे से भाजपा कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कई मोर्चे साधे
जेपी नड्डा ने बिहार भाजपा को दिया राष्ट्रवाद का मंत्र

पटना: जेपी नड्डा मंगलवार को एक दिन के दौरे पर बिहार पहुंचे थे. लेकिन उनका कार्यक्रम बेहद व्यस्त था. औपचारिक रुप से तो वह बिहार भाजपा के संस्थापक कैलाशपति मिश्र की पुण्यतिथि कार्यक्रम में शामिल होने के लिेए गए थे. लेकिन उनके इस दौरे से भाजपा को कई फायदे हुए-

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से कम की दूरियां
बिहार के Chief Minister नीतीश कुमार के साथ भाजपा के रिश्तों में पिछले दिनों खटास देखी जा रही थी. लेकिन भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने जेडीयू के साथ अपनी दूरियां पाटने का भी प्रयास किया. उन्होंने मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड (JDU) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार से भी मुलाकात की. इस दौरान नड्डा के साथ उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय और सीपी ठाकुर भी मौजूद रहे.
इस दौरान बिहार भाजपा के नेताओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से कई विषयों पर चर्चा की और आपसी दूरियों को कम करने का प्रयास किया. 

हालांकि राज्य की मुख्य विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ने नड्डा और नीतीश की मुलाकात पर जबरदस्त चुटकी लेते हुए कहा कि ''जेपी नड्डा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सचेत करने गए होंगे. यदि साथ छोड़ोगे तो अंदर कर देंगे. उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड और सृजन घोटाला में फंसाने की धमकी दिए होंगे. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी को पता है कि वह जेडीयू के बिना शून्य है''.

केन्द्रीय मंत्रिमंडल में शामिल होना चाहती ही नीतीश कुमार की जदयू, पूरी खबर यहां पढ़ें 

बिहार भाजपा नेताओं को दिया राष्ट्रवाद का मंत्र
एक दिन के बिहार दौरे पर पहुंचे जेपी नड्डा ने प्रदेश भाजपा में जान फूंक दी. उन्होंने पार्टी पदाधिकारियों से चुनावी तैयारी में जुट जाने का आह्वान किया. नड्डा ने सोमवार देर शाम पार्टी के पदाधिकारियों के अलावा चुनाव लड़ चुके प्रत्याशियों, सांसदों और विधायकों के साथ बैठक कर मतदान केंद्र तक सदस्यों की सूची बनाने का निर्देश दिया. 
बैठक में नड्डा ने संगठन चुनाव को भी जल्द पूरा किए जाने और मतदान केंद्र तक सदस्यों की सूची तैयार करने का निर्देश दिया. उन्होंने सरकार की योजनाओं की जानकारी गांव-गांव तक पहुंचाने के लिए भी कहा और प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की. इस दौरान नड्डा के निशाने पर विपक्षी दल भी रहे. उन्होंने राष्ट्रवाद और सेना की चर्चा कर यह तय कर दिया कि बीजेपी बिहार चुनाव में भी राष्ट्रवाद के मुद्दे से पीछे नहीं हटेगी. 

पार्टी नेताओं के साथ बैठक में नड्डा ने कहा कि पाकिस्तान के छक्के छुड़ाने की ताकत सिर्फ नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में है. साथ ही मोदी सरकार के पास ही निर्णय लेने की क्षमता है. उन्होंने कहा कि ये बदलता भारत है और बिहार की भी तस्वीर बदल रही है.
 
इसलिए पटना पहुंचे थे नड्डा
भाजपा कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा बिहार बीजेपी के संस्थापक कैलाशपति मिश्रा की पृण्यतिथि कार्यक्रम में शामिल होने के लिेए पटना पहुंचे थे. उन्होंने कैलाशपति मिश्र की सातवीं पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि दी. जेपी नड्डा बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार बिहार पहुंचे थे.