• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,64,944 और अबतक कुल केस- 7,42,417: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 4,56,831 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 20,642 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 61.13% से बेहतर होकर 61.53% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 16,883 मरीज ठीक हुए
  • डब्ल्यूएचओ की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में प्रति दस लाख आबादी पर सबसे कम मामले हैं
  • स्वस्थ होने वालों की संख्या करीब 4.4 लाख, संक्रमितों और ठीक होने वालों की संख्या का अंतर 1.8 लाख से अधिक
  • आईसीएमआर: पिछले 24 घंटे में 2.41+ लाख नमूनों की जांच की गई, कुल परीक्षणों की संख्या 1.02 करोड़ के पार
  • फिल्म निर्माण शुरू करने को लेकर सरकार जल्द ही एसओपी की घोषणा करेगी, ताकि फिल्म निर्माण में फिर से तेजी लाई जा सके
  • सीबीएसई ने छात्रों को दी बड़ी राहत, कक्षा 9वीं से 12वीं का सिलेबस घटाया गया
  • एमएचआरडी: यूजीसी और स्वयं के द्वारा "इंटरनेशनल बिजनेस" में मुफ्त ऑनलाइन कोर्स उपलब्ध है
  • विश्व बैंक ने गंगा के कायाकल्प हेतु ‘नमामि गंगे कार्यक्रम’ में आवश्यक सहयोग बढ़ाने के लिए 400 मिलियन डॉलर प्रदान किए

जबलपुर के आर्मी बेस वर्कशॉप में ब्लास्ट, एक जवान की मौत

जबलपुर जिले के खमरिया क्षेत्र स्थित 506 आर्मी बेस वर्कशाप में शनिवार दोपहर यह हादसा हुआ है. वर्कशॉप के ARG सेक्शन में चल रही ड्रिल के दौरान 130 एमएम तोप का रिकॉल सिलेंडर गिरने से उसमें ब्लास्ट हो गया.

जबलपुर के आर्मी बेस वर्कशॉप में ब्लास्ट, एक जवान की मौत

जबलपुरः देश इस वक्त कोरोना से जूझ रहा है और इस बीच जबलपुर मे एक बड़ा हादसा सामने आया है. जानकारी के मुताबिक यहां आर्मी बेस वर्कशॉप में ब्लास्ट हो गया है और एक जवान की जान जान चली गई है. हादसे में तीन सुरक्षाकर्मियों के घायल होने की खबर भी है. हालांकि पुष्टि केवल 2 की हुई है.

बताया जा रहा है कि वर्कशॉप स्थित GCF फैक्ट्री के गन रिपेयर सेक्शन में नाइट्रोजन गैस सिलेंडर में ब्लास्ट होने से यह हादसा हुआ है.

मिल्ट्री अस्पताल में इलाज जारी
मध्य प्रदेश के जबलपुर में आर्मी का वर्कशॉप सेंटर है. घायलों में एक की हालत गंभीर बनी हुई है. घायलों का मिलट्री अस्पताल में इलाज चल रहा है.

सूत्रों के मुताबकि, सुरक्षा संस्थान 506 आर्मी बेस वर्कशॉप स्थित GCF फैक्ट्री के गन रिपेयर सेक्शन में नाइट्रोजन गैस सिलेंडर में ब्लास्ट होने से यह हादसा हुआ है.

पलायन रोकने को केंद्र सरकार ने दिए निर्देश, प्रवासी कामगारों को सुविधाएं दें राज्य

खमरिया में है वर्कशॉप
जबलपुर जिले के खमरिया क्षेत्र स्थित 506 आर्मी बेस वर्कशाप में शनिवार दोपहर यह हादसा हुआ है. वर्कशॉप के ARG सेक्शन में चल रही ड्रिल के दौरान 130 एमएम तोप का रिकॉल सिलेंडर गिरने से उसमें ब्लास्ट हो गया.

जिस जवान की मौत हुई दरअसल उसके पास ही नाइट्रोजन गैस से भरा सिलेंडर गिरा और तेज विस्फोटक आवाज के साथ फट गया. विस्फोट इतना तेज था कि वहीं पास में मौजूद तीन अन्य जवान भी घायल हो गए. 

कर्मचारियों में है रोष
घटना की जानकारी मिलने पर कर्मचारी संगठनों में आक्रोश है. सूत्रों के मुताबिक ऑल इंडिया डिफेंस एम्पलाइज़ फेडरेशन के पदाधिकारियों और अन्य संगठनों ने 506 आर्मी बेस वर्कशॉप के कमांडेंट ब्रिगेडियर मनोज कुमार को घटना का ज़िम्मेदार माना है.

उनके मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान कैसे आनन-फानन में यहां काम शुरू कराया गया. उनका कहना है कि जबकि सभी इकाइयों को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं. 

राहतः लॉकडाउन के बीच नोएडा के किरायेदारों के लिए हुआ बड़ा ऐलान, यहां जानिए

19 मार्च को भी हुआ था हादसा
इससे पहले बीते 19 मार्च को केंद्रीय सुरक्षा संस्थान ओएफके (OFK) में भीषण हादसा हो गया था. फैक्ट्री के सेक्शन एफ 2 की बिल्डिंग नंबर 147 में आग लगने से भीषण विस्फोट हो गया और फिर पूरी बिल्डिंग उड़ गई थी.

तब बताया जा रहा था कि जिस समय ये विस्फोट हुआ है उस दौरान सेक्शन और बिल्डिंग में कोई कर्मचारी नहीं था.

ऑर्डनेंस फैक्ट्री खमरिया के एफ 2 सेक्शन की बिल्डिंग नम्बर 147 में 19 मार्च की रात को भीषण आग लगने से पूरी तरह खाक हो गई थी. सूत्रों के मुताबिक, आग यहां पर स्क्रेप बमों के सेक्शन में रखे मैंगनीज पाउडर में लगी थी जो पूरी इमारत में फैल गई थी.