• भारत में कोरोना के कुल सक्रिय मामले अभी तक 3981 हैं, इसमें से 326 लोग इलाज के बाद ठीक हुए, 114 लोगों की मौत
  • कोरोना संकट से जूझने के लिए सांसदों की तनख्वाह में से एक साल के लिए 30 फीसदी की कटौती की जाएगी, सरकार ने अध्यादेश को मंजूरी दी
  • जरुरतमंदों तक खाद्य सामग्री पहुंचाने के लिए फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने लॉकडाउन के दौरान रिकॉर्ड 16.94 लाख टन अनाज की ढुलाई की
  • कोरोना मरीजों के लिए 2500 रेल कोचों में 40 हजार आइसोलेशन वार्ड बनाए गए
  • देश के इन राज्यों में कोरोना के ज्यादा मरीज- महाराष्ट्र में 748, तमिलनाडु में 571, दिल्ली में 523, केरल में 314
  • उत्तर प्रदेश में 305, राजस्थान में 274, आंध्र प्रदेश में 226, मध्य प्रदेश में 165 कोरोना के मरीज हैं
  • दुनिया में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 1346003 है. इसमें से 74654 लोगों की मौत हो चुकी है और 278445 लोग ठीक हो चुके हैं

बरेली के एक स्कूल को दी गई बम से उड़ाने की धमकी

14 फरवरी को पुलवामा हमले की बरसी मनाई गई. भले इस हमले को 1 साल हो गया है लेकिन लोगों के दिलों-दिमाग में आज भी पुलवामा अटैक आते ही सहम जाते हैं. पुलवामा हमले की बरसी के तीन दिन भी नहीं हुए हैं लेकिन बरेली में एक स्कूल को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है. इतना ही नहीं इस धमकी में पुलवामा हमले जैसी घटना को अंजाम देने की बात कही जा रही है.

बरेली के एक स्कूल को दी गई बम से उड़ाने की धमकी

बरेली: उत्तर प्रदेश की बरेली के मां सरस्वती जूनियर हाईस्कूल को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है. यह धमकी एक पत्र के माध्यम से दी गई है, पत्र मिलने के बाद स्कूल प्रबंधन दहशत में है. वही पुलिस ने कैंट थाने में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा लिख जांच शुरू कर दी है.

कोर्ट का 'सुप्रीम' फैसलाः महिला अधिकारियों को सेना में मिलेगा स्थाई कमीशन.

स्कूल के साथ स्कूल प्रबंधक के घरों को भी उड़ाने की धमकी
यह वही धमकी भरा पत्र है जिसमें स्कूल प्रबंधक के घर और स्कूल को उड़ाने की धमकी दी गई है. स्कूल को बम से उड़ाने की धमकी भरा पत्र मिलने के बाद हड़कंप मचा हुआ है. दरअसल कैंट थाना क्षेत्र के चनेहटा स्थित मां सरस्वती जूनियर हाईस्कूल के प्रबंधक अनिल कुमार को कल रात उनके घर के दरवाजे पर एक पत्र मिला. जिस पर लिखा था - ''ध्यान से सुनो तुम्हारे स्कूल और घर पर बम है. जिसका रिमोट मेरे पास है. कल सुबह 7 से 8 बजे के बीच तुझसे एक पार्टी मिलेगी और उसके बाद पुलवामा हमले जैसा धमाका होगा. ज्यादा होशियार बनने की कोशिश मत करना वरना अंजाम बुरा होगा. धमकी भरा पत्र मिलने के बाद से स्कूल के प्रबंधक दहशत में हैं.''

पाक समर्थन में नारे लगाने वाले छात्र 2 मार्च तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेजे गए.

पत्र की सूचना मिलते ही पुलिस ने की सर्च जारी
स्कूल के प्रबंधक ने घटना की जानकारी शिक्षा विभाग के अधिकारियों को दी है, जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी. पुलिस को सूचना मिलते ही हड़कम्प मच गया, पुलिस के आला अधिकारियो ने मौके पर जाकर चैकिंग की और स्कूल प्रबंधक के घर के बाहर भी पुलिस तैनात कर दी गई है. एसपी सिटी रविन्द्र कुमार का कहना है की हमने स्कूल और प्रबंधक के घर के चैकिंग की थी लेकिन वहां कुछ भी नहीं मिला. फिलहाल अज्ञात के खिलाफ कैंट थाने में FIR दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है. बहरहाल धमकी भरा पत्र मिलने के बाद स्कूल प्रबंधन और पुलिस महकमे में हड़कम्प मचा हुआ है. वहीं पत्र देखकर ऐसा लगता है की कहीं ये किसी छात्र की शरारत तो नहीं.