कर्मचारियों के लिए खुशखबरी: 59 प्रतिशत कंपनियां वेतन बढ़ाने की तैयारी में

59 प्रतिशत कंपनियों ने कहा है कि वे अपने कर्मचारियों को इस साल वे 5 से 10 प्रतिशत के बीच वेतनवृद्धि देंगी.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Apr 13, 2021, 07:28 PM IST
  • श्रमबल को मजबूत करेंगी कंपनियां
  • कर्मचारियों को मिलेगा बड़ा तोहफा
कर्मचारियों के लिए खुशखबरी: 59 प्रतिशत कंपनियां वेतन बढ़ाने की तैयारी में

नई दिल्ली: पिछले साल कोरोना महामारी के कारण प्रभावित हुई भारतीय अर्थव्यवस्था अब पटरी पर लौट रही है. ऐसे में एक अध्ययन में कहा गया है कि इस साल यानी 2021 में भारत में 59 प्रतिशत कंपनियां अपने कर्मचारियों को वेतनवृद्धि देने की तैयारी कर रही हैं.

श्रमबल को मजबूत करेंगी कंपनियां
स्टाफिंग कंपनी जीनियस कंसल्टेंट्स की नियुक्ति, कर्मचारियों के कंपनी छोड़ने और वेतन के रुख पर 10वीं रिपोर्ट 2021-22 में कहा गया है कि अच्छी वृद्धि दर के साथ बाजार के भी स्थिर रहने की उम्मीद है.

कंपनियां अपने कारोबार की निरंतरता की रणनीति पर काम करने के अलावा श्रमबल को भी मजबूत करेंगी.

रिपोर्ट में कहा गया है, 'इस साल वेतनवृद्धि का परिदृश्य अच्छा दिख रहा है. 59 प्रतिशत कंपनियों ने कहा कि इस साल वे 5 से 10 प्रतिशत के बीच वेतनवृद्धि देंगी.

वहीं 20 प्रतिशत कंपनियों ने कहा कि वेतनवृद्धि पांच प्रतिशत से कम रहेगी. 21 प्रतिशत का कहना था कि 2021 में भी कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि नहीं होगी.'

यह भी पढ़िए: Delhi: इस अस्पताल में बच्चों के लिए अलग से बनाया गया कोविड वॉर्ड

कर्मचारियों को मिलेगी बड़ी राहत

बीते एक साल से वेतन में वृद्धि का इंतजार कर रहे कर्मचारियों के लिए यह बहुत राहत देने वाली खबर है. देश में कोरोना महामारी की दूसरी लहर का असर देखने को मिल रहा है.

कई सरकारी एवं प्राइवेट संस्थानों ने अपने कर्मचारियों को एक बार फिर वर्क फ्रॉम होम पर भेजना शुरू कर दिया है. ऐसे में अगर कर्मचारियों के वेतन में वृद्धि होती है, तो यह कर्मचारियों के लिए एक बढ़ी खुशखबरी होगी. 

यह अध्ययन फरवरी और मार्च के दौरान 1,200 कंपनियों के बीच ऑनलाइन किया गया. इनमें बैंकिंग और वित्त, निर्माण और इंजीनियरिंग, शिक्षा/शिक्षण/प्रशिक्षण, एफएमसीजी, आतिथ्य, एचआर समाधान, आईटी, आईटीईएस और बीपीओ, लॉजिस्टिक्स, विनिर्माण, मीडिया, तेल एवं गैस, फार्मा और चिकित्सा, बिजली और ऊर्जा, रियल एस्टेट, खुदरा, दूरसंचार, वाहन और संबद्ध क्षेत्र की कंपनियां शामिल हैं.

यह भी पढ़िए: रमजान पर नहीं खुलेगा मरकज; 50 लोगों की एंट्री की मांग दिल्ली HC ने खारिज की 

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

 

 

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़