'मेरा मन करता है कि आपको निर्मला न कहकर 'निर्बला' सीतारमण क्यों न कहूं'

कांग्रेस पार्टी के सांसद अधीर रंजन चौधरी ने भरे सदन में एक महिला का अनादर करते हुए वित्तमंत्री निर्मला सीतरमण को 'निर्बला' कहकर पुकारा. इतना ही नहीं उन्होंने पीएम मोदी, अमित शाह और लालकृष्ण आडवाणी को घुसपैठिया कह दिया. जिसके बाद जंग छिड़ गई.

'मेरा मन करता है कि आपको निर्मला न कहकर 'निर्बला' सीतारमण क्यों न कहूं'

नई दिल्ली: लोकसभा में सोमवार को कांगेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी ने अपने ऊल जुलूल बयानों से पूरे सदन का माहौल सुबह से शाम तक गरमाए रखा. सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होते ही अधीर रंजन ने पीएम मोदी, अमित शाह और लालकृष्ण आडवाणी को घुसपैठिया कह दिया.

...और भाजपा ने खोल दिया मोर्चा

हालांकि तब भारतीय जनता पार्टी ने उनके बयान का कड़ा विरोध नहीं किया लेकिन लंच के बाद भाजपा सांसद अपनी रणनीति के मुताबिक अधीर रंजन चौधरी पर हमलावर हो गए. एक के बाद एक बीजेपी के कई नेता अधीर रंजन चौधरी से माफी मांगने की जिद पर अड़ गए. भाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने यहां तक कह दिया कि अधीर रंजन चौधरी की नागरिकता की जांच करने के लिए जांच कमेटी बैठाई जाए.

भाजपा यहीं नहीं रुकी इसी कड़ी में बीजेपी सांसद संजय जायसवाल और संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने सोनिया गांधी को घुसपैठिया करार दे दिया. जिसके बाद कांग्रेस बुरी तरह चिढ़ गई. पहले सांसद संजय जायवाल ने कांग्रेस को लताड़ते हुए ये बोला कि 'जिस तरह से इन्होंने एक विदेशी को अपना नेता बनाया है और जिस साजिश के तहत घुसपैठियों को बचाने के लिए ऐसा बयान दिया है. उसके लिए इन्हें माफी मांगनी चाहिए.'

इसके बाद मोदी सरकार में संसदीय कार्य मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा कि 'इनका खुद का नेता कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी खुद घुसपैठी हैं. मैं इस बयान की निंदा करता हूं.'

सोनिया को घुसपैठिया कहना अधीर रंजन चौधरी को बेहद नागवार गुजरा और वो तैश में आ गए. उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि 'आप लोग हमारे लीडर सोनिया गांधी को घुसपैठिया कह रहे हैं. ये सदन में क्या हो रहा है? अगर मेरा नेता घुसपैठिया है तो आपका भी नेता घुसपैठिया है.'

कांग्रेस ने सदन में किया महिला का अपमान

हालांकि इसके बाद भी सभी बीजेपी सांसद एक सुर में अधीर से माफी मांगने की मांग करते रहे. सदन में घुसपैठिया प्रकरण जैसे ही शांत हुआ वैसे ही अधीर रंजन चौधरी ने आ बैल मुझे मार जैसी एक और हरकत कर डाली. उन्होंने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को निर्बला सीतारमण कह दिया. जिसके बाद वो दोबारा बीजेपी सांसदों के निशाने पर आ गए. कांग्रेस सांसद ने कहा कि 'आपकी हालत देखकर मेरा मन करता है कि आपको निर्मला सीतारमण न कहकर निर्बला सीतारमण क्यों न कहूं.'

केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने अधीर रंजन चौधरी के बयान का कड़ा विरोध किया और कांग्रेस पर महिलाओं को नीचा दिखाने का आरोप लगाते हुए माफी मांगने की मांग की. ठाकुर ने कहा कि 'अगर आप सही मायने में महिलाओं का सम्मान करते हैं और कांग्रेस मानती है कि महिलाओं का सम्मान होना चाहिए तो इस शब्द को वापस लिया जाए. अब कांग्रेस ने महिलाओं की क्षमता पर प्रश्नचिन्ह लगाने का काम शुरू कर दिया है.'

हालांकि अधीर रंजन चौधरी अपनी बात पर अड़े रहे. और सफाई में कहा कि उन्होंने विशेषण के तौर पर ऐसा कहा है. बहस के अंत में खुद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अधीर रंजन चौधरी को जवाब दिया और कहा कि वो निर्बला नहीं सबला हैं. और बीजेपी की हर महिला सबला है.

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस विधायक की फिसली जुबान, प्रियंका चोपड़ा की करा बैठे राजनीति में एंट्री

सदन में सोमवार का दिन अधीर रंजन चौधरी के विवादित बयानों के नाम रहा. जिसको लेकर बीजेपी और कांग्रेस ने एक दूसरे के आला नेताओं पर निजी हमला करने से भी परहेज नहीं किया.

इसे भी पढ़ें: क्यों बगावती तेवर में नजर आ रही हैं पंकजा मुंडे, जानिए तीन कारण