सबसे ज्यादा NRI वाले राज्य पंजाब ने केन्द्र से मांगी 150 करोड़ की मदद

भारत के पंजाब प्रांत में सबसे ज्यादा अप्रवासी भारतीय रहते हैं. यहां हर एक घर से कोई न कोई विदेश में रहता है. इसलिए पंजाब में कोरोना वायरस का डर सबसे ज्यादा छाया हुआ है. कोरोना से निपटने के लिए यहां कई एहतियाती कदम उठाए जा रहे हैं.   

सबसे ज्यादा NRI वाले राज्य पंजाब ने केन्द्र से मांगी 150 करोड़ की मदद

चंडीगढ़: कोरोना वायरस के चलते चंडीगढ़ में कर्फ्यू का ऐलान कर दिया गया है. शहर के सभी सरकारी दफ्तर और बोर्ड कॉरपोरेशन 31 मार्च तक बंद रहेंगे. इस दौरान केवल पब्लिक ऑफिस और पुलिस विभाग के दफ्तर ही खुलेंगे. चंडीगढ़ प्रशासन ने ये भी आदेश जारी किया है कि 31 मार्च तक सभी पेड इंप्लायड, कॉन्ट्रैक्ट इंप्लायड और डेली वेज इंप्लाइज की सैलरी नहीं काटी जाएगी. प्रशासन ने सभी को पूरी तनख्वाह देने के निर्देश जारी किए हैं.

पंजाब ने केन्द्र से मांगा 150 करोड़
कोरोना वायरस से निपटने के लिये पंजाब सरकार ने केंद्र से 150 करोड़ रुपए की मांग की है.  पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन को चिट्ठी लिखकर कहा कि विदेशों से पंजाब में कई NRI आ रहे हैं. इनके चेकअप और दूसरे हालात से निपटने के लिए मैन पावर...मेडिकल सुविधाओं की जरुरत है. जिसके लिए तत्काल डेढ़ सौ करोड़ रुपए की मदद दी जाए. 

सांसद और विधायक दान करेंगे वेतन
कोरोना वायरस से लड़ने के लिये अकाली दल के सांसद और विधायक एक महीने का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देंगे. अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को कोविड-19 के खिलाफ सरकारी कोशिशों में सहयोग देने की अपील की. साथ ही सांसदों और विधायकों ने अस्पतालों में क्वारंटाइन सुविधाएं और लंगर सेवा शुरू करने के लिए SGPC की सराहना की.

एसजीपीसी सरकार की मदद के लिए उतरा
सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी ने भी कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पंजाब सरकार को पूरी मदद देने का भरोसा दिया है.  एसजीपीसी के अध्यक्ष गोबिंद सिंह लोंगोवाल ने कोरोना वायरस से निपटने के लिये पंजाब सरकार का सहयोग करने की बात कही.  लोंगोवाल ने कहा कि हालात के मद्देनज़र गुरु रामदास अस्पताल के कई वार्ड खाली करवा लिये गए हैं. साथ ही सराय और लंगर का बंदोस्त भी किया जा रहा है.

दूध की सप्लाई दुरुस्त रखने की कवायद
पंजाब में वेरका दूध ने पाउडर और लंबी अवधि वाले दूध की सप्लाई बढ़ा दी गई है. पंजाब के कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा के मुताबिक लोगों को घबराने की बिल्कुल भी ज़रूरत नहीं है. राज्य में दूध की सप्लाई जारी रहेगी. रंधावा ने ये भी दावा किया कि पंजाब के गांव-गांव तक दूध की सप्लाई की व्यवस्था पुख्ता की जाएगी.