तौकते तूफान का कहर: गृह मंत्रालय अलर्ट पर, सभी प्रभावित राज्यों संग किया मंथन

कर्नाटक में पिछले 24 घंटों के दौरान चक्रवात के कारण हुई भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण तटीय और मध्य कर्नाटक में अलग-अलग घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गई.  

Written by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : May 16, 2021, 06:29 PM IST
  • केंद्र सरकार भी हुई अलर्ट
  • कर्नाटक में 4 लोगों की मौत
तौकते तूफान का कहर: गृह मंत्रालय अलर्ट पर, सभी प्रभावित राज्यों संग किया मंथन

बेंगलुरू: देश के कई राज्यों में तौकते तूफान ने विकराल रूप रख लिया है. गृहमंत्री अमित शाह समेत पूरी केंद्र सरकार राज्य सरकारों के साथ चक्रवात को लेकर रणनीति बना रही है.

कर्नाटक में पिछले 24 घंटों के दौरान चक्रवात के कारण हुई भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण तटीय और मध्य कर्नाटक में अलग-अलग घटनाओं में चार लोगों की मौत हो गई.  एक मौसम अधिकारी ने रविवार को ये जानकारी दी.

चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ लगातार मजबूत होता जा रहा है. केरल, गुजरात, महाराष्ट्र समेत पांच राज्यों पर चक्रवात 'तौकते' का खतरा मंडरा रहा है.

 

गुजरात में जारी की गई एडवाइजरी

चक्रवाती तूफान ‘तौकते’ लगातार मजबूत होता जा रहा है. केरल, गुजरात, महाराष्ट्र समेत पांच राज्यों पर चक्रवात 'तौकते' का खतरा मंडरा रहा है. Cyclone Tauktae के कारण केरल के तिरुवनंतपुरम के एक तटीय गांव वलियाथुरा में कई घर क्षतिग्रस्त हो गए.

NDRF ने संबंधित राज्यों में 79 टीमों को तैनात किया है और 22 अतिरिक्त टीमों को भी तैयार रखा गया है. जहाजों और विमानों के साथ थल सेना, नौसेना और तटरक्षक बल के बचाव और राहत दल भी तैनात किए गए हैं.

केंद्र सरकार भी हुई अलर्ट

कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने राज्यों- गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के मुख्य सचिवों और केंद्रशासित प्रदेशों लक्षद्वीप, दादरा और नगर हवेली, दमन और दीव के प्रशासकों के सलाहकारों के साथ राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक की अध्यक्षता की.

इसके अलावा बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए चक्रवाती तूफान तौकते के मद्देनजर गोवा, महाराष्ट्र, केरल, कर्नाटक, दमन और दीव, गुजरात के बीजेपी सांसदों, विधायकों और राज्य पदाधिकारियों से बात की.

गृहमंत्री अमित शाह ने चक्रवात तौकते से उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए संबंधित राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों, केंद्रीय मंत्रालयों / संबंधित एजेंसियों की तैयारियों के आकलन के लिए महाराष्ट्र, गुजरात के मुख्यमंत्रियों, दमन और दीव और दादरा नगर हवेली के प्रशासकों के साथ बैठक की. गृहमंत्री अमित शाह ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे संग चक्रवात के लेकर मंथन किया.

कर्नाटक में 4 लोगों की मौत

कर्नाटक राज्य प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र के प्रमुख सुनील गावस्कर ने बताया कि राज्य में चक्रवात के कारण हुई भारी बारिश हुई जिसकी वजह से उत्तरा कन्नड़, उडुपी, चिक्कमगलुरु और शिवमोगा जिलों में शनिवार देर रात से अलग-अलग घटनाएं हुई.

पहली घटना में, उत्तर कन्नड़ में कारवार के पास एक मछुआरे की मौत हो गई, जब वह अपनी नाव को किनारे पर ले जा रहा था.  समुद्र में तैरती एक और नाव तेज हवाओं और भारी बारिश के कारण पीछे से दुर्घटनाग्रस्त हो गई.

ये भी पढ़ें-  विराट कोहली को मिला पाकिस्तानी का साथ, माइकल वॉन पर किया करारा प्रहार

दूसरी घटना में, एक किसान पश्चिमी तट पर उडुपी के पास अपने खेत में उस समय करंट की चपेट में आ गया, जब वह भारी बारिश के बीच तेज हवा के कारण अपने खेत में मौजूद था.

तीसरी घटना, चिक्कमगलुरु जिले में एक अधेड़ उम्र के व्यक्ति की मौत हो गई, जब भारी बारिश के कारण एक घर ढह गया.

चौथी घटना, मलनाड क्षेत्र के शिवमोगा जिले में बिजली गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई, जब वह बारिश के दौरान पेड़ के नीच खड़ा था.

गावस्कर ने कहा कि चक्रवात की नजर अरब सागर के ऊपर तट से लगभग 120 किमी दक्षिण-पश्चिम में थी और रविवार दोपहर को गोवा, महाराष्ट्र और गुजरात की ओर उत्तर-पश्चिम दिशा की ओर बढ़ रही थी. तेज हवाओं के कारण राज्य के तटीय क्षेत्रों और मलनाड क्षेत्र में भारी बारिश हुई.

भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण पश्चिमी तट पर समुद्र में उथल-पुथल हुआ और प्रभावित जिलों में निचले इलाकों में पानी भर गया.

गावस्कर ने कहा कि शनिवार से भारी बारिश के कारण दक्षिण कन्नड़ जिले में लगभग 120 घर क्षतिग्रस्त हो गए.  प्रभावित लोगों को जिले में राज्य सरकार द्वारा स्थापित राहत केंद्रों में स्थानांतरित कर दिया गया.

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.  

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़