दिल्ली पुलिस ने पकड़ा ईरानी गैंग जो पुलिस बन कर लूटते थे लोगों को

कई बार पुलिस के पास ऐसा मामला भी चला आता है जो प्रशासन को अलर्ट रहने को मजबूर कर देता है. बाहरी देशों से घुसपैठिए भारत में घुस आते हैं और यहां गलत धंधे करने लग जाते हैं. ऐसा ही एक केस राजधानी दिल्ली में देखने को मिला.  जहां ईरानी गैंग दिल्ली पुलिस के हत्थे चढ़ा है.

दिल्ली पुलिस ने पकड़ा ईरानी गैंग जो पुलिस बन कर लूटते थे लोगों को

दिल्ली: राजधानी दिल्ली में पुलिस ने चार ईरानी फर्जी पुलिसवालों को धर दबोचा है जो पुलिस की वर्दी पहन कर सीनियर सिटीजन और महिलाओं से पैसे ऐंठने का काम करते थे. ये चार ईरानी लोग महिलाओं को या विदेशी नागरिकों को अपना निशाना बनाते थे. पुलिस को इनके पास से विदेशी करेंसी, पिस्टल और 10 मोबाइल फोन बरामद हुआ है. राजधानी दिल्ली के दिल्ली कैंट पुलिस ने इन बदमाशों के गैंग को गिरफ्तार किया है.  

एयरपोर्ट पर पकड़ा गया ईरानी गैंग

पिछले कुछ दिनों से दिल्ली पुलिस को शिकायत मिल रही थी कि पुलिस के वेश में कोई उन्हें ठगता जा रहा है. दिल्ली पुलिस के पास जब इस तरह की बहुत सी शिकायतें मिलने लगीं तो छानबीन शुरू कर दिया गया. राजधानी के इंदिरा गांधी एयरपोर्ट के पास कुछ बदमाश वरिष्ठ नागरिकों को तो परेशान करते ही थे बल्कि अकेली महिलाओं को भी और विदेशी नागरिकों के साथ भी लूटपाट की वारदात को अंजाम दे रहे थे. पुलिस ने इस अधार पर एक टीम बनाई और ऐसे बदमाशों पर नजर रखनी शुरु कर दी.

पुलिस ने इसकी जांच करनी शुरू की तो बहुत सी बातें सामने निकल कर आई. जब उन्हें पकड़ा गया तो पूछताछ में यह पता चला कि ये तो अंतराष्ट्रीय बदमाशों का एक गैंग है, जो राजधानी दिल्ली में और उसके आस-पास के इलाके मे ईरानी गैंग के नाम से मशहूर है. इस गैंग में विदेशी नागरिक ईरान के रहने वाले हैं. उनके अलावा कुछ भारतीय नागरिक भी इस गैंग में शामिल हैं. 

दिल्ली पुलिस की खराब कर रहे थे छवि

पुलिस की पुछताछ में इन्होने बताया कि ये सभी खुद को पुलिसवाला बताते थे और वर्दी पहन कर लूटपाट की वारदात को अंजाम देते थे. इनके पास से दिल्ली पुलिस के फर्जी आईकार्ड भी मिले हैं. इससे साफ हो जाता है कि कैसे ये पुलिसवाले बन कर लूटपाट की वारदात को ना केवल अंजाम देते थे, बल्कि आम जनता की नजर में पुलिसवालों की छवि भी खराब करते थे. चारों बदमाशों पर दिल्ली के अलग अलग थानों में 12 से 14 मुकदमा भी दर्ज है. इनके पास से विदेशी करैंसी, पिस्टल और 10 मोबाइल फोन बरामद हुए  हैं.