• देश की रक्षा के लिए हमारे देश के वीर जवान क्या कर सकते हैं. यह लद्दाख में पूरी दुनिया ने देख लिया- पीएम मोदी
  • देश में प्रदूषण मुक्त ईंधन एथेनॉल का उत्पादन 40 करोड़ लीटर से बढ़कर पांच गुना यानी 200 करोड़ लीटर हुआ- पीएम
  • आज से राष्ट्रीय डिजिटल हेल्थ मिशन की शुरुआत, एक ही कार्ड में होगा पूरा मेडिकल इतिहास - पीएम
  • अब भारत का किसान अपनी मर्जी का मालिक है, वह जहां चाहे अपना उत्पाद बेच सकता है. किसानों की आय दोगुना करने की कोशिश हमने की-पीएम
  • गांवों में कृषि और गैर कृषि उत्पादों के लिए संघ बनाया जाएगा. जिससे गांव आत्मनिर्भर बनेंगे- प्रधानमंत्री
  • पिछले 5 सालों में देश के 1.5 लाख पंचायतों में ऑप्टिकल फायबर पहुंचा दिया गया है. बाकी एक लाख पंचायतों में तेजी से काम जारी-पीएम
  • देश के 6 लाख गावों में ऑप्टिकल फायबर पहुंचाया जाएगा. यह काम 1000 दिनों के अंदर पूरा कर दिया जाएगा-पीएम
  • हमारे देश की महिलाएं फायटर प्लेन उड़ाने के साथ गहरी खदानों में भी काम कर रही हैं, नौसेना में भी महिला शक्ति की भागीदारी बढ़ी
  • देश में तेजी से महिला सशक्तिकरण हो रहा है. सरकारी योजनाओं में महिलाएं ज्यादा से ज्यादा भागीदारी कर रही हैं.
  • जल जीवन मिशन के तहत प्रतिदिन एक लाख से ज्यादा घरों में पाइप से जल पहुंच रहा है. एक करोड़ परिवारों तक साफ जल पहुंचाया गया- पीएम

कश्मीर का हाल जानने पहुंच रहे हैं 16 देशों के राजनयिक

 भारत में अमेरिका के राजदूत केनेथ आई जस्टर सहित 16 देशों के राजनयिक गुरुवार से जम्मू-कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर जाएंगे. जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा पिछले वर्ष समाप्त किये जाने के बाद राजनयिकों का यह पहला दौरा होगा. 

कश्मीर का हाल जानने पहुंच रहे हैं 16 देशों के राजनयिक

नई दिल्लीः भारत में अमेरिका के राजदूत केनेथ आई जस्टर सहित 16 देशों के राजनयिक गुरुवार से जम्मू-कश्मीर के दो दिवसीय दौरे पर जाएंगे. जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा पिछले वर्ष समाप्त किये जाने के बाद राजनयिकों का यह पहला दौरा होगा. दिल्ली से ये राजनयिक गुरुवार को हवाई मार्ग से श्रीनगर जाएंगे और वहां से वे जम्मू जाएंगे. वे वहां पर उप राज्यपाल जी सी मर्मू के साथ ही नागरिक समाज के लोगों से भी मुलाकात करेंगे.

फारुख, उमर और महबूबा से मुलाकात की इच्छा
इनमें बांग्लादेश (Bangladesh), वियतनाम, नार्वे, मालदीव, दक्षिण कोरिया, मोरोक्को, नाइजीरिया आदि देशों के भी राजनयिक शामिल होंगे. अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि ब्राजील के राजनयिक आंद्रे ए कोरिये डो लागो का भी जम्मू-कश्मीर का दौरा करने की योजना थी. हालांकि उन्होंने अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के चलते दौरे पर नहीं जाने का फैसला किया. यह भी कहा जा रहा है कि प्रतिनिधि पूर्व मुख्यमंत्रियों फारूख अब्दुल्ला, उमर अब्दुल्ला और महबूबा मुफ्ती से मुलाकात करने की इच्छा जताई है.

सिविल सोयाइटी के सदस्यों से मुलाकात करेंगे राजनयिक
अधिकारियों ने बताया कि गुरुवार को दौरा करने वाले राजनयिक नागरिक समाज के सदस्यों से मुलाकात करेंगे और उन्हें विभिन्न एजेंसियों द्वारा सुरक्षा व्यवस्था की जानकारी दी जाएगी. इसके बाद राजनयिकों को जम्मू ले जाया जाएगा जहां वे उप राज्यपाल जीसी मुर्मू और अन्य अधिकारियों से मुलाकात करेंगे. सूत्रों ने बताया कि कई देशों के राजनयिकों ने भारत सरकार से अनुरोध किया था कि अनुच्छेद 370 (Article 370) के प्रावधान हटने के बाद की स्थिति का जायजा लेने के लिए कश्मीर का दौरा करने की अनुमति दी जाए.

ध्वस्त होगा पाकिस्तान का दुष्प्रचार
इस कदम से भारत को कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान के दुष्प्रचार को ध्वस्त करने में मदद मिलेगी. भारत ने पी-फाइव देशों और विश्व के सभी देशों की राजधानियों से संपर्क कर अनुच्छेद 370 के प्रावधान निरस्त करने के निर्णय पर अपना मत रखा था. इससे पहले यूरोपीय संघ के 23 सांसदों का शिष्टमंडल भी जम्मू-कश्मीर जा चुका है. 

अमेरिका से तनाव दूर करने के लिये ईरान ने भारत से लगाई गुहार

Tags: