close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

देश के कई हिस्सों में बदलते मौसम से जिंदगी हुई दुश्वार

चक्रवात, तूफान, बर्फबारी और भारी बारिश ने देश के हर हिस्से में कहर बरसा रहा है. आम जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो चुका है.

देश के कई हिस्सों में बदलते मौसम से जिंदगी हुई दुश्वार
प्रतीकात्मक चित्रण

नई दिल्ली: पिछले एक महीने में भारत के हर छोर पर एक-एक करके बदलते मौसम का असर दिखाई दे रहा है. कहीं पर 'बुलबुल' तूफान ने, कहीं पर 'महा' चक्रवात तो कहीं पर भारी बर्फबारी का कहर देखने को मिल रहा है.

बर्फबारी से कश्मीर हुआ खुशनुमा

जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी रूकने का नाम नहीं ले रही है. राज्य का राष्ट्रीय राजमार्ग दो दिनों से बंद है. घाटी में पुंछ और मुगल रोड  और श्रीनगर को लेह से जोड़ने वाला जोजिला मार्ग भारी बर्फबारी के चलते बंद कर दिया गया है. क्योंकि बर्फबारी के चलते सड़कों पर फिसलन काफी बढ़ जाती है जिससे गाड़ियों के उतरने और चढ़ने में हादसा के आसार ज्यादा होते हैं. रोड बंद होने की वजह से कई वाहन फंसे हुए हैं जिन्हें काफी दिक्कत आ रही है.

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में पिछले दिन से लगातार बर्फबारी जारी है. प्रदेश में भारी बर्फबारी के चलते 48 युवा गुलाब की वादियों में फंस गए थे जिन्हें प्रशासन ने टैक्सी ऑपरेटरों की मदद से रेस्क्यू अभियान शुरू कर सुरक्षित बाहर निकाला.

बुलबुल तूफान ने मचाया कहर, लिंक पर क्लिक कर जाने खबर.

पूर्वी भारत के लिए आफत है ''बुलबुल''

बंगाल की खाड़ी के मध्य बूलबूल तूफान उठा है जो पश्चिमी दिशा की ओर आगे बढ़ रहा है. पश्चिम बंगाल और ओडिशा के साथ-साथ यह तूफान इसके आस-पास के इलाकों पर भी कहर बरसा सकती है. मौसम विभाग स्काई मेट के अनुसार इस तूफान का असर मिजोरम, मणिपुर, त्रिपुरा के साथ ही उत्तरी भारत में दिख सकता है.

अभी से इसका असर इन राज्यों में दिखने लगा है, मौसम विभाग के मुताबिक कई राज्यों में बादल छाए हुए है.

पश्चिमी भारत पर ''महा'' का कहर

गुजरात में आए ''महा'' चक्रवात का भी असर देखने को मिल रहा है. पहले तो इस चक्रवात के चलते गुजरात के सूरत, वलसाड में भारी बारिश हुई, साथ ही दक्षिणी भागों में भी मध्यम बारिश दर्ज की गई. गुजरात के कच्छ और पूर्वी भागों में भी बारिश की मार पड़ी और यहां से होते हुए ''महा'' का असर महाराष्ट्र पहुंच गया.

बीते दिन मुबंई के उपनगरीय इलाकों में भी बारिश का असर दिख रहा है. बारिश की वजह से कई निचले इलाकें, सड़कों पर पानी का जमाव हो गया है. ''महा'' से गुजरात के लोगों को तो कुछ राहत मिली है लेकिन लगता है कि महाराष्ट्र के लोगों की परेशानियां बारिश की वजह से और बढ़ सकती है. गोवा और कोंकण में भी बारिश की संभावना है.

दक्षिण में ''क्यार'' तूफान से तबाही

इसकी शुरुआत भारत के दक्षिणी राज्यों से हुई. ''क्यार' नाम के तूफान की वजह से कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल में बहुत बुरी स्थिति देखने को मिली. बारिश की ऐसी मार पड़ी की कर्नाटक और तमिलनाडु में घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया.

राज्य सरकारों को स्कूल व कॉलेजो को बंद तक करना पड़ गया.