चिदंबरम हो सकते हैं गिरफ्तार! ED ने मांगी गिरफ्तारी की इजाजत

आईएनएक्स मामले में भ्रष्टाचार का सामना कर रहे है पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम की परेशानी और बढ़ सकती है. ईडी ने दिल्ली की एक अदालत ने उन्हें गिरफ्तार करने की अनुमति मांगी है. वहीं पी चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने इसका विरोध करते हुए कहा उन्हें हिरासत में लेने का ईडी के पास कोई आधार नहीं है.

चिदंबरम हो सकते हैं गिरफ्तार! ED ने मांगी गिरफ्तारी की इजाजत
पी. चिदंबरम (File Photo)

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली की एक अदालत से आईएनएक्स मीडिया (INX Media Case) मामले में पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी चिदंबरम (P. Chidambaram) को गिरफ्तार करने की अनुमति मांगी है. ईडी की ओर से पेश हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहाड़ को बताया कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अपने निष्कर्ष में कहा है कि चिदंबरम को हिरासत में लेकर पूछताछ किया जाना आवश्यक है. मेहता ने कहा कि धनशोधन एक अलग अपराध है और उन्होंने चिदंबरम की गिरफ्तारी और रिमांड के लिए एक अर्जी दी.

चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने किया विरोध

चिदंबरम की ओर से पेश वरिष्ठ अधिवक्ता और वरिष्ठ कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने याचिका का विरोध करते हुए कहा कि चिदंबरम पहले से ही सीबीआई की हिरासत में हैं. उसी अपराध में उन्हें हिरासत में लेने का ईडी के पास कोई आधार नहीं है. उन्होंने कहा कि सीबीआई ने पहले ही भुगतान और विदेशी कंपनियों की जांच के लिए उनकी हिरासत मांगी है और अब ईडी इसकी जांच करना चाहता है. कांग्रेस नेता सिब्बल ने अदालत से अपने उस आदेश को वापस लेने का आग्रह किया, जिसमें तिहाड़ अधिकारियों को चिदंबरम को उसके समक्ष पेश करने के निर्देश दिए गए थे. इसकी कार्रवाई अभी चल रही है.

सीबीआई की हिरासत में हैं चिदंबरम

पूर्व वित मंत्री पी चिदंबरम इस वक्त केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा दायर आईएनएक्स मीडिया भ्रष्टाचार मामले में 17 अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में हैं. ईडी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता को अदालत में पेश करने के अनुरोध वाली एक याचिका शुक्रवार को दाखिल की थी. जांच एजेंसी ने अपनी याचिका में कहा था कि आईएनएक्स मीडिया से जुड़े धनशोधन मामले में चिदंबरम को हिरासत में लेकर पूछताछ किये जाने की जरूरत है.