• कोरोना वायरस पर नवीनतम जानकारी: भारत में संक्रमण के सक्रिय मामले- 2,83,407 और अबतक कुल केस- 8,20,916: स्त्रोत PIB
  • कोरोना वायरस से ठीक / अस्पताल से छुट्टी / देशांतर मामले: 5,15,386 जबकि मरने वाले मरीजों की संख्या 22,123 पहुंची: स्त्रोत PIB
  • कोविड-19 की रिकवरी दर 62.42% से बेहतर होकर 62.78% पहुंची; पिछले 24 घंटे में 19,873 मरीज ठीक हुए
  • आईसीएमआर: पिछले 24 घंटों में 2.83+ लाख नमूनों की जांच की गई, कुल परीक्षणों की संख्या 1.10 करोड़ के पार हुई
  • कोविड-19 के बाद अर्थव्यवस्था के पुनरुद्धार की रणनीति हेतु MoHFW ने TIFAC द्वारा तैयार श्वेत पत्र जारी किया
  • आईआईटी दिल्ली के स्टार्टअप "चक्र इनोवेशन" ने N95 मास्क को संक्रमण मुक्त करने वाले ‘Chakr DeCoV’ को लॉन्च किया
  • एएसआई के स्मारकों में फ़िल्म शूटिंग करने के लिए 15 दिन के अंदर मिलेगी इजाजत
  • विशेष तरलता योजना (एसएलएस) ट्रस्ट की निवेश समिति ने वाणिज्यिक पत्र में 200 करोड़ रुपये तक के निवेश को मंजूरी दी
  • MSDE ने सभी क्षेत्रों में कुशल कार्यबल की मांग-आपूर्ति के अंतर को पाटने के लिए एआई-आधारित ASEEM डिजिटल मंच की शुरूआत की
  • मछली उत्पादन और उत्पादकता से जुड़ी महत्वपूर्ण कमियों को दूर करने के लिए 20,050 करोड़ रुपये के निवेश के साथ PMMSY की शुरुआत

दिल्ली हिंसा में मास्टरमाइंड था पूर्व आप विधायक ताहिर हुसैन, चार्जशीट दाखिल

क्राइम ब्रांच ने हुसैन और उसके भाई शाह आलम समेत 15 लोगों के खिलाफ  कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. दिल्ली दंगों के वक्त ताहिर हुसैन के घर से पेट्रोल बम मिले थे. ताहिर हुसैन आम आदमी पार्टी (AAP) का पूर्व पार्षद है.

दिल्ली हिंसा में मास्टरमाइंड था पूर्व आप विधायक ताहिर हुसैन, चार्जशीट दाखिल

नई दिल्ली: राष्ट्रीय नागरिकता कानून के विरोध की आंच में पूरा देश दिसंबर में जल था. इसके बाद फरवरी में दिल्ली को भी इस आग में झुलसाया गया. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने इस मामले में दिल्ली दंगों का मास्टरमाइंड ताहिर हुसैन को बताया है.

क्राइम ब्रांच ने हुसैन और उसके भाई शाह आलम समेत 15 लोगों के खिलाफ  कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की है. दिल्ली दंगों के वक्त ताहिर हुसैन के घर से पेट्रोल बम मिले थे. ताहिर हुसैन आम आदमी पार्टी (AAP) का पूर्व पार्षद है.

1300 पन्नों की चार्जशीट दाखिल
क्राइम ब्रांच की टीम ने 1030 पन्नों की चार्जशीट कड़कड़डूमा कोर्ट में दाखिल की है. इस मामले में 70 गवाह हैं. चार्जशीट के मुताबिक ताहिर हुसैन ही पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा का मास्टरमाइंड है, उसी ने दंगे शुरु करवाए थे. पूर्वी दिल्ली में हिंसा भड़काने के लिए ताहिर हुसैन ने फंडिग की थी. हिंसा फैलाने में 1 करोड़ 30 लाख से ज्यादा रुपये खर्च किए गए. चार्जशीट में दंगा फैलाने के लिए ताहिर के भाई शाह आलम को भी आरोपी बनाया गया है.

ट्रंप आगमन पर दिल्ली को सुलगाने की थी साजिश
दिल्ली पुलिस ने अपनी चार्जशीट में कहा कि हिंसा से पहले आरोपी ताहिर हुसैन ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरकिता रजिस्टर (NRC) के खिलाफ प्रदर्शन में शामिल लोगों से बातचीत की थी. ताहिर ने जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद से भी बात की थी. चार्जशीट के मुताबिक, दिल्ली हिंसा की पूरी तैयारी पहले से की गई थी.

ताहिर हुसैन ने लोगों से बात की थी और उसी वक्त तय किया गया था कि जब अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दिल्ली आएंगे तब दिल्ली में हिंसा कराया जाएगा. जिसका मैसेज पूरी दुनिया में जाएगा. ताहिर हुसैन ने उमर खालिद के साथ भी जामिया में मीटिंग की थी. हालांकि इस मामले में उमर खालिद को आरोपी नहीं बनाया गया.

पिंजड़ा तोड़ की भी अहम भूमिका
क्राइम ब्रांच दूसरी चार्जशीट जाफराबाद में हुई हिंसा के मामले में पिंजड़ा तोड़ ग्रुप की महिलाओं के खिलाफ दाखिल करेगी. पिंजड़ा तोड़ महिलाओं को आरोपी बनाने के लिए सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की जाएगी. दिल्ली हिंसा में इनकी भी खास भूमिका सामने आई है.

पिंजरा तोड़ का काम दंगो के लिए स्थानीय लॉजिस्टिक सप्लाई करने वालों की मुलाकात महिलाओं से करवाना भी था. इस पूरे खेल में मोटी फंडिंग हुई थी. दिल्ली दंगे और एंटी CAA प्रोटेस्ट और पिंजरा तोड़ को होने वाली फंडिंग के सोर्स एक ही हैं पुलिस अब पूछताछ में मीटिंग्स के डिटेल्स और मीटिंग्स में मौजूद लोगों के बारे में जानकारी जुटा रही है.