नहीं रहे छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी 9 मई से अब तक श्री नारायण अस्पताल में भर्ती थे. 17 दिनों के बाद भी उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हो पाया था, उन्हें वेंटिलेटर के जरिए सांसे दी जा रही थी. 

नहीं रहे छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम अजीत जोगी

रायपुरः छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रहे अजीत जोगी को शुक्रवार को निधन हो गया. उन्होंने श्री नारायण अस्पताल में आखिरी सांसें लीं. जानकारी के मुताबिक पूर्व सीएम का निधन कार्डिएक अरेस्ट के चलते हुआ है. 

कई दिनों से वेंटिलेटर पर थे
छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी 9 मई से अब तक श्री नारायण अस्पताल में भर्ती थे. 17 दिनों के बाद भी उनकी हालत में कोई सुधार नहीं हो पाया था, उन्हें वेंटिलेटर के जरिए सांसे दी जा रही थी. श्री नारायण अस्पताल की ओर से लगातार उनकी तबीयत को लेकर मेडिकल बुलेटिन जारी किया जा रहा था.

शुक्रवार की हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक स्थिति में अब भी कोई सुधार नहीं आया था और जिसके बाद कार्डियक अरेस्ट के चलते उनका दोपहर बाद निधन हो गया. 

27 मई  की रात भी आया था कार्डिएक अरेस्ट
पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को 27 मई की रात भी कार्डियक अरेस्ट आने की बात सामने आई थी. अस्पताल के डायरेक्टर डॉ. सुनील खेमका ने इस बात की जानकारी दी थी.  गिरते स्वास्थ्य को देखते हुए इलाज कर रहे डॉक्टरों की टीम ने अजीत जोगी को एक विशेष इन्जेक्शन लगाया था, जिसके बाद उनकी हालत में  स्थिरता आई थी. कई दिनों से अस्पताल में भर्ती छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री  27 मई की रात कार्डियक अरेस्ट आने के बाद उनकी हालत बेहद गंभीर बताई जा रही थी. 

IAS अफसर से मुख्यमंत्री बनने का सफ़र
साल 2000 के नवंबर में छत्तीसगढ़ राज्य बना. कांग्रेस आलाकमान एक आदिवासी चेहरे को राज्य की कमान देने के पक्ष में थी. ऐसे में अजीत जोगी सीएम बने. मुख्यमंत्री बनने से पहले वह राज्यसभा सांसद भी रहे और सांसद होने से पहले IAS अफसर भी रहे थे. 

ISI ने 20 तालिबानी आतंकियों को दी ट्रेनिंग, जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की प्लानिंग

एक इमली के कारण पहुंचे थे अस्पताल
जानकारी के मुताबिक छत्तीसगढ़ के प​हले मुख्यमंत्री रहे अजीत जोगी ने इमली खायी थी. जिसका बीज उनके गले में अटक गया था. जिसके बाद 9 मई को उन्हें रायपुर के श्री नारायण अस्पताल में भर्ती कराया गया था. डॉक्टरों ने अजीत जोगी को हार्ट अटैक आने की बात कही थी.

दिल्ली में LG दफ्तर तक पहुंचा कोरोना, चार कर्मचारी पाए गए संक्रमित