close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

धनतेरस पर और पीला हुआ सोना, 220 रुपये तेजी हुई दर्ज

धनतेरस के मौके पर सोने की खरीदारी करना शुभ माना जाता है. इस दिन धन के देवता कुबेर की पूजा की जाती है जिन्हें देवताओं के कोषाध्यक्ष के तौर पर जाना जाता है. इसी के साथ यह भी मान्यता है कि इस दिन आभूषण खरीदने से जीवन खुशहाल और सुखमय बनता है.  इस बार धनतेरस को सोने के दाम में 220 रुपये की तेजी दर्ज की गई है.

 धनतेरस पर और पीला हुआ सोना, 220 रुपये तेजी हुई दर्ज

नई दिल्लीः धनतेरस के साथ दीपोत्सव के पांच दिन वाले पर्व की शुरुआत हो चुकी है. इसी के साथ शुक्रवार को लोगों ने सोने-चांदी की खरीदारी की. त्योहार के इस मौके पर जहां सोना खूब पीला हुआ वहीं चांदी की रंगत में भी सफेदी आई है. दोनों ही कीमती धातुओं के दाम में खासकर आभूषणों को लेने के रिवाज से काफी लाभ हुआ है. 

धनतेरस पर सोने-चांदी की कीमतों में उछाल दर्ज किया गया. सोने में 220 रुपये की तेजी आई है. एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार, देश की राजधानी दिल्ली में शुक्रवार को सोने का भाव 39,240 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया है. सोना गुरुवार को 39,020 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था. एचडीएफसी सिक्योरिटीज से जुड़े सूत्र ने बताया कि दिल्ली में 24 कैरेट सोने के भाव में भी 220 रुपये की बढ़त देखी गई. उन्होंने लोगों की ओर से हो रही खरीद को भाव बढ़ने की वजह बताया है. इसी के साथचांदी में भी तेजी देखी गई. इस सफेद धातु में भी 670 रुपये की तेजी दर्ज की गई है. इस बढ़त के साथ अब एक किलो चांदी का भाव 47,680 रुपये हो गया है. गुरुवार को चांदी 47,010 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी. औद्योगिक इकाइयों और सिक्का कारोबारियों के साथ भी अच्छी खरीदारी हुई है. 

उतार-चढ़ाव रहा है साल दर साल 
2010 से अबतक धनतेरस के मौके पर सोने की कीमतों में बड़े उतार-चढ़ाव देखने को मिले हैं. 2010 में धनतेरस में सोने में करीब 25 फीसदी का रिटर्न मिला था. वहीं 2011 में सोने ने रिकॉर्ड 38 फीसदी का रिटर्न हासिल किया था. बात अगर बीते साल 2019 की हो तो धनतेरस के मौके पर इस दौरान सोने में करीब 21 फीसदी का रिटर्न मिला है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार धनतेरस के मौके पर सोने की खरीदारी करना शुभ माना जाता है. इस दिन धन के देवता कुबेर की पूजा की जाती है जिन्हें देवताओं के कोषाध्यक्ष के तौर पर जाना जाता है. इसी के साथ यह भी मान्यता है कि इस दिन आभूषण खरीदने से जीवन खुशहाल और सुखमय बनता है.

शादी के मौसम में खपत बढ़ने की और अधिक संभावना
एचडीएफसी सिक्योरिटीज के अनुसार सोने की कीमतों में और मजबूती आने की उम्मीद है. त्योहार के समय में मांग में तेजी आने से शादी के मौसम में खपत बढ़ने की और अधिक संभावना है. उन्होंने कहा, "वैश्विक बाजार की अनिश्चितताओं के कारण अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सोने की कीमतों में तेजी दर्ज की गई. ब्रेक्जिट को लेकर चिंताओं और अमेरिका से कमजोर आर्थिक आंकड़ों के कारण सोने की कीमतों में तेजी आई. अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना 1,506 अमेरिकी डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रहा था, जबकि चांदी 18.05 डॉलर प्रति औंस पर रही.